Top
Home > Archived > हंदेवाडा जा रहे नेशनल कांफ्रेंस के प्रतिनिधिमंडल को पुलिस ने रोका

हंदेवाडा जा रहे नेशनल कांफ्रेंस के प्रतिनिधिमंडल को पुलिस ने रोका

हंदेवाडा जा रहे नेशनल कांफ्रेंस के प्रतिनिधिमंडल को पुलिस ने रोका

नई दिल्ली। जम्मू एवं कश्मीर में फैले तनाव के बीच नेशनल कांफ्रेंस के एक प्रतिनिधिमंडल को हिंसा प्रभावित क्षेत्र हंदवाड़ा नहीं जाने दिया गया। पुलिस ने प्रतिनिधिमंडल को सोपोर में ही रोक दिया।

एक स्कूली छात्रा के साथ कथित रूप से किसी सैनिक के छेड़छाड़ के आरोप के बाद घाटी में तनाव का माहौल उत्पन्न हो गया है। विद्रोह प्रदर्शन में चार लोगों की मौत हो जाने के बाद श्रीनगर के कई इलाकों में लोगों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। इसी बीच अली मोहमम्द सागर के नेतृत्व में हंदवाडा जा रहे नेशनल कांफ्रेंस के एक प्रतिनिधिमंडल को सोपेर में ही रोक दिया गया और आगे जाने नहीं दिया गया।

सेना और स्थानीय लोगों के बीच हुई झड़प के बाद अलगाववादी नेताओं ने शुक्रवार की नमाज के बाद विरोध प्रदर्शन का ऐलान किया है। हालांकि कानून-व्यवस्था को देखते हुए नियमित रूप से होने वाली आज की शुक्रवार की नमाज की अनुमति नहीं दी गई है। हंदवाडा जिले में कर्फ्यू जारी है। इसके साथ ही असामाजिक तत्वों द्वारा फैलाई जाने वाली अफवाहों को रोकने के उद्देश्य से मोबाइल और इंटरनेट सेवाओं पर भी रोक लगा दी गई है। अस्थाई रूप से मोबाइल सेवाओं को निलंबित किया गया है। स्थिति सामान्य होते ही सेवा बहाल कर दी जाएगी।

जानकारी हो कि जम्मू- कश्मीर में पिछले कुछ दिनों से अशांति का माहौल बना हुआ। गत मंगलवार को कथित रूप से एक स्कूली छात्रा के साथ किसी सैनिक के छेड़छाड़ के आरोप के बाद स्थानीय लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया। उग्र प्रदर्शकारियों पर पुलिस को लाठी चार्ज करना पड़ा और गोली चलानी पड़ी थी। जिसमें चार लोगों की मौत हो गई थी। सेना ने छेड़छाड़ के आरोप को नकारते हुए स्कूली छात्रा का एक वीडियो रिलीज किया जिसमें लड़की बता रही है कि किसी सैनिक ने नहीं बल्कि एक स्थानीय युवक ने उसके साथ छेड़छाड़ की कोशिश की थी। पिछले तीन दिनों से यह लड़की पुलिस हिरासत में ही है।

Updated : 2016-04-15T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top