Top
Home > Archived > कन्हैया-खालिद की जान को खतरा, हथियार व धमकी भरी चिट्ठी मिले

कन्हैया-खालिद की जान को खतरा, हथियार व धमकी भरी चिट्ठी मिले

कन्हैया-खालिद की जान को खतरा, हथियार व धमकी भरी चिट्ठी मिले

कन्हैया-खालिद की जान को खतरा, हथियार व धमकी भरी चिट्ठी मिले

नई दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) जाने वाली बस नंबर 605 में एक देशी पिस्टल व 4 जिंदा कारतूस और धमकी भरी चिट्ठी मिलने के बाद दिल्ली पुलिस हरकत में आ गई है। इस बरामदगी के बाद जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार और छात्र नेता उमर खालिद की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

गौरतलब है कि रूट नंबर 605 मोरी गेट से बसंत विहार जाती है। रूट नंबर 605 की उस बस में, जो रोज एक बजे जेएनयू कैंपस जाती है, से यह पिस्टल और चार कारतूस बरामद की किए गए हैं। बस के ड्राईवर ने गुरुवार शाम 6 बजे इंडिया गेट के पास लावारिस बैग देखकर 100 नंबर पर पुलिस को कॉल करके इस बात की सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर चेक किया तो उसमें पिस्टल और कारतूस के अलावा एक धमकी भरी चिट्ठी भी मिली। इसमें कन्हैया और उमर खालिद का सर कलम करने वाले को इनाम दिए जाने की बात लिखी थी। साथ ही चिट्ठी पर अनिल जानी नाम लिखा हुआ था।

दिल्ली पुलिस ने तिलक मार्ग थाने में 25 आम्र्स एक्ट तहत केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। साथ ही जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्याल प्रशासन को भी अलर्ट कर दिया गया है। कन्हैया की सुरक्षा को लेकर भी दिल्ली पुलिस खासी सतर्कता बरत रही है।

गौरतलब है कि इससे पहले दिल्ली में प्रेस क्लब के बाहर कुछ ऐसे पोस्टर लगाए गए थे जिसमें कन्हैया को जान से मारने पर इनाम देने की घोषणा की गई थी। उसके बाद स्पेशल सेल ने जेएनयू प्रशासन से कन्हैया से जुडी रोजमर्रा की जानकारी मांगी थी ताकि कन्हैया जब कॉलेज से बाहर जाए तो उसे सुरक्षा दी जा सके।

Updated : 2016-04-15T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top