Top
Home > Archived > केरल पुत्तिंगल देवी मंदिर हादसा: 110 की मौत, पांच लोग हिरासत में

केरल पुत्तिंगल देवी मंदिर हादसा: 110 की मौत, पांच लोग हिरासत में

केरल पुत्तिंगल देवी मंदिर हादसा: 110 की मौत, पांच लोग हिरासत में

केरल पुत्तिंगल देवी मंदिर हादसा: 110 की मौत, पांच लोग हिरासत में

तिरुवनंतपुरम | केरल के पुत्तिंगल देवी मंदिर में भीषण आग हादसे की जांच का जिम्मा क्राइम ब्रांच को सौंपा गया है। आतिशबाजी से जुड़े कॉन्ट्रेक्टर के खिलाफ भी केस दर्ज किया गया है। जिन पांच लोगों ने आतिशबाजी की उन्हें भी हिरासत में ले लिया गया है। मंदिर के स्टोरकीपर को भी गिरफ्तार किया गया है। इस सिलसिले में पुलिस कुछ और लोगों को भी गिरफ्तार कर सकती है। केस दर्ज होने के बाद से मंदिर प्रशासन के कुछ लोग गायब हो गए हैं। पुलिस इनकी तलाश कर रही है।

गौर हो कि कल केरल के कोल्लम के पास स्थित 100 वर्ष पुराने पुत्तिंगल देवी मंदिर परिसर में रविवार को आतिशबाजी के दौरान लगी भीषण आग में 110 व्यक्तियों की मौत हो गई और 400 से अधिक लोग घायल हो गए, जिसमें 77 की हालत गंभीर बताई जा रही है। केरल सरकार ने हादसे की अपराध शाखा से जांच के साथ ही इसकी उच्च न्यायालय के एक अवकाशप्राप्त न्यायाधीश से न्यायिक जांच का भी आदेश दिया है। मुख्यमंत्री ओमन चांडी ने यह घोषणा दुर्घटना को लेकर कैबिनेट की एक आपात बैठक के बाद की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना को ‘हृदय विदारक’ और ‘चौंकाने वाली’ बताया और मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये मुआवजा और घायलों के लिए 50-50 हजार रुपये देने की घोषणा की। मोदी स्थिति का जायजा लेने और घायलों को देखने के लिए यहां निजी तौर पर आये। प्रधानमंत्री ने घटनास्थल का दौरा किया और हालात का जायजा लिया। केरल के मुख्यमंत्री ओमन चांडी और गृह मंत्री रमेश चेन्नीतला प्रधानमंत्री को परिसर के पास ले गए और उन्हें घटना की जानकारी दी।

केरल के मुख्यमंत्री ओमन चांडी ने घोषणा की है कि मृतकों के परिवार को 10-10 लाख रुपए दिए जाएंगे और गंभीर रूप से घायलों को 2-2 लाख रुपए दिए जाएंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना को 'हृदय विदारक' और 'चौंकाने वाली' बताया और मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपए मुआवजा और घायलों के लिए 50-50 हजार रुपए देने की घोषणा की।

Updated : 2016-04-11T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top