Top
Home > Archived > अब कानों की बीमारियों का पता लगाएगा स्मार्टफोन

अब कानों की बीमारियों का पता लगाएगा स्मार्टफोन

अब कानों की बीमारियों का पता लगाएगा स्मार्टफोन

अब कानों की बीमारियों का पता लगाएगा स्मार्टफोन

कानों की इन्फेक्शन एक आम बीमारी है जो एक छोटे बच्चे से लेकर बड़ी उम्र तक के किसी भी व्यक्ति को हो सकती है परन्तु अच्छे विकास वाले देशों में भी इस का इलाज अच्छी तरह डाईगनोसड न होने के कारण रह जाता है। इस मुद्दे को मुख्य रखते हुए स्वीडन की यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने साउथ अफ्रीका में स्थित प्रिटोरिया की यूनिवर्सिटी के विज्ञानियों के साथ मिल कर एक टूल विकसित किया है जो समार्टफोन और क्लाउड की मदद के साथ कान को आसानी के साथ डायगनोज़ किया जा सकता है।

इस काम को करने की विधि बेहद आसान है जिस के लिए यूजर को एक अोटोस्कोप जो कि कमरशियली उपलब्ध है को कान में इन्सर्ट करना होगा और अोटोस्कोप कान के अंदरूनी हिस्से की तस्वीर को एक समार्टफोन के ज़रिए क्लाउड पर अपलोड कर देगा जहाँ यह अपने आप विश्लेषण करेगा और हाई रेजोल्यूशन कल्पना के साथ इस की तुलना करेगा. यह सॉफ्टवेयर उस तस्वीर को चैक कर एक डायगनोस्टिक के तौर पर दिखाता है।

टेस्टिंग के दौरान इस ऑटोस्कोप की आटोमैटिक जनरेटड डायगनोसिस के साथ 80.6 प्रतिशत शुद्धता मापी गई है जब इसकी तुलना आम डायगनोस्टिक के साथ करें तो शुद्धदा 64 से 80 प्रतिशत होती है। यहीं नहीं टीम ने इसका अपना एक कम कीमत वाला अोटोसकोप डवैल्प किया है जो समार्टफोन के साथ सीधे तौर पर कनैकट किया जा सकता है। पेपर के कु -आथर कलोड लौरैंट का कहना है कि यह बच्चों की कानों को लेकर कई आम बीमारियों का पता लगाने के लिए आसान और सस्ता मेथड है।

Updated : 2016-04-01T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top