Home > Archived > उद्योगपति, बिल्डरों को मिलेंगे शराब के ठेके

उद्योगपति, बिल्डरों को मिलेंगे शराब के ठेके

ग्वालियर। आबकारी विभाग अब शहर के प्रॉपर्टी डीलर,बिल्डर और उद्योगपतियों समेत शहर के प्रमुख व्यापारियों को शराब के ठेके देने की पहल कर रहा है। आबकारी विभाग अपने शेष बची देशी-विदेशी शराब के ठेकों के टेंडर को पुराने शराब कारोबारियों को नहीं बल्कि नए लोगों को देना चाहता है, ताकि पुराने कारोबारियों की मॉनोपाली समाप्त हो सके।

आबकारी विभाग ने दाल बाजार, लोहिया बाजार और सराफा बाजार के बड़े व्यापारियों को पत्र लिखकर आग्रह किया है कि वे अपने कारोबार के साथ शराब के व्यापार में भी रुचि दिखाएं। सूत्र बताते हैं कि 27 फ रवरी को निविदा द्वारा हुई निष्पादन कार्यवाही से शेष रही जिले की 74 देशी मदिरा एवं 37 विदेशी मदिरा फुटकर बिक्री दुकानें जो 35 एकल समूहों में है उनके टेंडर आगामी 11 मार्च को न्यू कलेक्ट्रेट में होना है। यह कार्यवाही एक अप्रैल से 31 मार्च 2017 तक की अवधि के लिये अलग अथवा मदिरा दुकानों के एकल समूहों में निश्चित आरक्षित मूल्य पर शील्ड टेण्डर आमंत्रित कर जिलाधीश की अध्यक्षता में गठित जिला समिति द्वारा की जाएगी। इसके लिए आबकारी विभाग ने कुछ दिन पूर्व शहर के बड़े व्यापारियों को पत्र लिखकर इस टेंडर में हिस्सा लेने को कहा है।

शराब कारोबारियों की मॉनोपाली तोडऩे की पहल
सूत्र बताते हैं कि शहर में अभी लल्ला शिवहरे और एक अन्य शिवहरे गु्रप की मॉनोपाली चल रही है। इस कारण 27 फरवरी को बड़ी संख्या में दुकानों के टेंडर लेने कोई आगे नहीं आया। अब 11 मार्च को भी ऐसी आशंका से आबकारी विभाग ने यह कदम उठाया है। कई व्यापारियों ने विभाग को उत्तर भी दिया है।


आबकारी आयुक्त ने दिए निर्देश

इधर मध्यप्रदेश के आबकारी आयुक्त राकेश श्रीवास्तव ने पुन: जिले में बची शराब दुकानों के होने वाले टेंडर को निष्पक्ष कराने के आदेश आबकारी महकमें को दिए हैं। नये व्यापारियों को भी टेंडर में शामिल करने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही किसी भी प्रकार की गड़बड़ी न हो इसका ध्यान रखा जाए। ताकि किसी को परेशानी का सामना न करना पड़े।

Updated : 2016-03-09T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top