Top
Home > Archived > कन्हैया के बारे में लगे विवादित पोस्टर पुलिस ने फाड़े

कन्हैया के बारे में लगे विवादित पोस्टर पुलिस ने फाड़े

नई दिल्ली। हाई कोर्ट से अंतरिम जमानत पर छूटे देशद्रोह के आरोपी और जेएनयूएसयू अध्यक्ष कन्हैया कुमार के बारे में विवादित पोस्टर लगाये गए है। राजधानी में प्रेस क्लब ऑफ़ इंडिया के आस-पास कुछ पोस्टर लगे दिखाई दिए जिसमे पूर्वांचल सेना का नाम छपा है। इसी पोस्टर में आपत्तिजनक भाषा में कन्हैया को गोली मारने पर पूर्वांचल सेना की ओर से 11 लाख रुपये का इनाम देने की बात कही गई है। वही उत्तर प्रदेश के बदायूं जिलाध्यक्ष कुलदीप वार्ष्णेय ने कन्हैया कुमार की जीभ काटने वाले व्यक्ति को पांच लाख रुपए इनाम देने की घोषणा की है जिस पर पार्टी ने उसे संगठन की प्राथमिक सदस्यता से हटा दिया है।
राजधानी दिल्ली स्थित प्रेस क्लब के नजदीक शनिवार सुबह कुछ पोस्टर लगे दिखाई दिए जिसमे पूर्वाचल सेना नामक एक संगठन ने घोषणा की है कि देशद्रोह के आरोपी कन्हैया कुमार को गोली मारने वाले को ग्यारह लाख रुपया का इनाम दिया जाएगा। इस तरह के पोस्टर लगे होने की सूचना पाकर दिल्ली पुलिस मौके पर पहुंची और जहां-जहां इस प्रकार के पोस्टर लगे थे, उन्हें फाड़कर पुलिस ने मामले की छानबीन शुरु कर दी। पोस्टर में छपे फोन नंबर के आधार पर पुलिस ने कथित संगठन के अध्यक्ष को पूछताछ के लिए संसद मार्ग थाना बुलाया है।
उधर, उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष कुलदीप वार्ष्णेय ने घोषणा की है कि जो भी व्यक्ति कन्हैया कुमार की जीभ काट कर लाएगा, उसे पांच लाख रुपए का इनाम दिया जाएगा। हालांकि बयान के बाद शनिवार को भाजपा जिलाध्यक्ष हरीश शाक्य ने मीडिया को बताया कि वार्ष्णेय को करीब छह माह पहले ही भाजयुमो अध्यक्ष पद से हटा दिया गया था। अब विवादित बयान देने के कारण शीर्ष नेतृत्व के आदेश पर उसे संगठन की प्राथमिक सदस्यता से भी हटा दिया गया है।

दिल्ली पुलिस ने जेएनयू प्रशासन को कन्हैया की गतिविधियों पर नजर रखने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा पुलिस ने संस्थान से बाहर निकलने पर कन्हैया को पुलिस द्वारा सुरक्षा मुहैया कराने की भी बात की है।

Updated : 2016-03-05T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top