Top
Home > Archived > साडा में विकास और बसाहट को प्राथमिकता: जादौन

साडा में विकास और बसाहट को प्राथमिकता: जादौन

लगभग 3.28 करोड़ के लाभ का बजट पेश

ग्वालियर। साडा विशेष क्षेत्र विकास प्राधिकरण काउण्टर मैग्नेट क्षेत्र में विकास और बसाहट मेरी पहली प्राथमिकता होगी। यह बात बुधवार को साडा अध्यक्ष राकेश जादौन ने अपने कार्यकाल का पहला बजट पेश करते हुए पत्रकारों से चर्चा के दौरान कही।

श्री जादौन ने बताया कि साडा क्षेत्र में स्थित ग्राम मालीपुरा पाठा एवं पावटा क्षेत्र में एयरपोर्ट प्रस्तावित है। अगले वित्तीय वर्ष में राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र योजना मण्डल की वित्तीय मदद से इसके प्रथम चरण का काम शुरू करना प्रस्तावित है। इसके साथ ही साडा में पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप से गोल्फ कोर्स का निर्माण भी नए वित्तीय वर्ष में प्रस्तावित है। उन्होंने बताया कि नए वित्तीय वर्ष के लिए साडा के बजट में 3 करोड़ 28 लाख रूपए का लाभ अनुमानित है। बजट प्रावधान के अनुसार लगभग 370 करोड़ 44 लाख की आय प्राप्तियां और 367 करोड़ 17 लाख रूपए का व्यय अनुमानित किया गया है। साडा अध्यक्ष श्री जादौन एवं साडा के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री तरूण भटनागर ने संयुक्त रूप से बताया कि पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप से वित्तीय वर्ष 2016-17 में गोल्फ कोर्स का निर्माण भी प्रमुख आकर्षण होगा। साडा से शुरू होकर 30 किलोमीटर लम्बे रायरू बायपास के निर्माण के लिए नए बजट में 79 करोड़ 50 लाख रूपए का प्रावधान किया गया है। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र योजना मण्डल नईदिल्ली से 28 करोड़ का ऋ ण लेकर साडा क्षेत्र में मल्टी स्पोट्र्स कॉम्प्लेक्स के निर्माण का प्रस्ताव भी बजट में शामिल किया गया है।
पांच मेगावाट के सौर ऊर्जा प्लांट लगाने की तैयारी

श्री जादौन ने बताया कि साडा क्षेत्र में पांच मेगावाट के सौर ऊर्जा प्लांट की स्थापना के लिए प्रस्तावित कुल व्यय का 75 प्रतिशत अनुदान मिलना संभावित है। इस प्लांट के लिए जमीन का चयन किया जा चुका है। ऊर्जा के क्षेत्र में आत्म निर्भर बनने की कड़ी में पांच मेगावाट का सौर ऊर्जा प्लांट साडा में स्थापित होगा।

बजट के अन्य आकर्षण
*अटल बिहारी वाजपेयी ऑडिटोरियम का होगा निर्माण
*ग्वालियर जिले में साडा द्वारा 12 करोड़ 11 लाख रूपए से 198 आंगनबाड़ी भवन बनाए जाएंगे।
*शहर में शिवाजी पार्क सिटी सेंटर में निर्माणाधीन बहुउद्देश्यीय सांस्कृतिक परिसर का निर्माण भी इस वर्ष तक पूरा कराया जाएगा।
*राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र योजना मण्डल की वित्तीय मदद से साडा क्षेत्र में 21 करोड़ 30 लाख की लागत से होंगे बाह्य सीवर कार्य।
*साडा क्षेत्र में स्टॉप डेम तथा फार्म हाउस और रिसोर्ट का निर्माण।
*संस्थागत क्षेत्र मसलन निजी विवि, महाविद्यालय के लिए 200 हैक्टेयर क्षेत्र विकसित होगा।
*नवीन भूमि के अधिग्रहण के लिए लगभग 8 करोड़ का प्रावधान।
*मनोरंजन क्षेत्र के विकास कार्य और फ्लाई ओव्हर की स्थापना होगी।

Updated : 2016-03-31T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top