Home > Archived > दिनदहाड़े दो व्यवसायियों को गोलियों से भूना

दिनदहाड़े दो व्यवसायियों को गोलियों से भूना

आपसी रंजिश में दोनों घटनाओं को दिया अंजाम

अलीगढ़। आपसी रंजिश और साझेदारी की रंजिश में रविवार को दिनदहाड़़़े दोपहर में दो बड़े व्यवसायियों की हत्या कर दी गई। एक ही थाना क्षेत्र में हुई दोनों हत्याओं के हत्यारे घटनाओं को अंजाम देकर भाग जाने में सफल हो गये। पहली घटना तालानगरी में मदन पैलेस के पास हुई।

भट्टा कारोबारी एवं समरसेबिल फैक्ट्री मालिक नेमपाल सिंह उम्र 40 वर्ष पुत्र महेन्द्र सिंह निवासी जिरौली हीरासिंह थाना अकराबाद हाल निवासी तालानगरी रविवार को अपने बेटे अजय को एएमयू की कक्षा 9 का एट्रैंस टेस्ट दिलाने गये थे, वापसी में वह अपने एक्टिवा से बेटे के साथ लौट रहे थे तभी मदन पैलेस के पास आये बाइक सवार हमलावरों ने नेमपाल को निशाना बनाकर गोली चला दी जो उनकी कनपटी पर लगी। नेमपाल एक्टिवा सहित गिर गये और उनकी मौके पर ही मौत हो गई। अपनी आंखों के सामने पिता को तड़पते हुए मौत के आगोश में समाते देख अजय अपने होशोहवास खो बैठा। दिनदहाडे हुई घटना से आसपास सनसनी फैल गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

दूसरी घटना में घर के लिए होली का सामान खरीदने निकले सरिया मिल मालिक को भी हत्यारों ने दोपहर 2 बजे गोलियों से भूनकर मौत के घाट उतार दिया। रवि उम्र 26 पुत्र ओंकार सिंह निवासी कोंडरा थाना हरदुआगंज की गांव की पुरानी रंजिश चल रही थी वह जेल में बंद गांव के ही मेम्बर, लखपत, नवल सिंह आदि से मिलाई करने जाते रहते थे जो दूसरी पार्टी के देवेन्द्र, सोनू, छत्रा और संजय आदि को नागवार गुजरता था इसी को लेकर उक्त नामजदों ने उसकी गोली मारकर हत्या कर दी। दोनों हत्याओं से होली के त्यौहार पर सुरक्षा व्यवस्था में लगी पुलिस का चैन उड़ गया है। दोनों हत्याओं की ही नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। पुलिस हत्यारों की सरगर्मी से तलाश कर रही है।


Updated : 21 March 2016 12:00 AM GMT
Next Story
Top