Top
Home > Archived > डिप्लोमा इंजीनियरों का 12वें दिन भी कार्य बहिष्कार

डिप्लोमा इंजीनियरों का 12वें दिन भी कार्य बहिष्कार

झांसी। उ.प्र. डिप्लोमा इंजी. महासंघ के कार्य बहिष्कार की बारहवें दिन की सभा माताटीला बांध प्रखण्ड, कार्यालय के प्रांगण में इं. संजय चौबे चेयरमैन संघर्ष समिति की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। सभा में इं. आरके कौशिक, इं.एसके दमेले, इं. जीपी कटारे, इं.एसके सोनी आदि प्रोन्नत सहायक अभियंता की गरिमामयी उपस्थिति में संघर्ष की रुपरेखा तैयार की गयी।


वर्तमान में प्रांतीय नेतृत्व के निर्देशन में डिप्लोमा इंजीनियर का वेतनमान 4800 ग्रेड पे करने एवं सेवाकाल में तीन प्रोन्नत वेतनमान प्रदान किये जाने की प्रमुख मांगों के समर्थन में सदस्यों ने कार्य का बहिष्कार जारी रखने का निर्णय लिया। आज मंडी परिषद एवं रामगंगा कमाण्ड के डिप्लोमा इंजीनियर को धरना स्थल पर आने पर मजबूर किया। सभा में आगामी 2 मार्च से प्रस्तावित पूर्ण कालीन हड़ताल के लिए गोपनीय रणनीति तैयार की गयी जिसके तहत किसी भी स्थिति मेें विकास कार्यों को ठप कर दिया जाएगा। शासन की हटधर्मिता एवं कुंभकर्णी नींद से जगाने के लिए संघर्ष को और तेज किया जाएगा।


बैठक में वीके साहू, अनिल धूरिया, सुधीर कौशिक, रामलखन वर्मा, विनयदेव तिवारी, मानवेन्द्र धमन्या, विनोद खरे, वीरेंद्र जोशी, खेमराज सिंह, शरद नायक, एमएस चौबे, राजेंद्र पाल, सुभाष गौतम, मोहन यादव, एसपी गुप्ता, वाई के शुक्ला, एसके ओझा, सुशील सचान आदि इंजीनियरों ने संबोधित किया एवं पूरी ताकत से संघर्ष को सफल बनाने की सदस्यों से अपील की। सभा में मंडल अध्यक्ष इं. सीपी गुप्ता द्वारा केन्द्र से प्राप्त निर्देशों की जानकारी दी गई। सभा का संचालन इं. शिवरंजन द्विवेदी ने किया।

Updated : 2016-03-01T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top