Top
Home > Archived > हेलमेट ने मचाई पेट्रोल की मारामारी

हेलमेट ने मचाई पेट्रोल की मारामारी

दूसरे दिन भी परेशान हुए लोग, यातायात पुलिस ने बनाए चालान

गुना। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के परिपालन में हेलमेट को लेकर की जा रही सख्ती ने पेट्रोल को लेकर मारामारी वाले हालात पैदा कर दिए है। हेलमेट नहीं तो पेट्रोल नहीं के कलेक्टर राजेश जैन के आदेश के बाद पेट्रोल पंप संचालक आज दूसरे दिन भी सख्त बने रहे और उन्होने बिना हेलमेट वाले वाहन चालकों को पेट्रोल नहीं दिया। इसके चलते आज दूसरे दिन भी लोग परेशान होते रहे, वहीं अब यातायात पुलिस भी फिर से हेलमेट पहनाओ अभियान को लेकर मैदान में उतर आई है। पुलिस ने आज हेलमेट नहीं पहनने वाले वाहन चालकों के चालान बनाए। इसके लिए तंबू यातायात पुलिस ने पेट्रोल पंपों के पास ही ताना।
खुद दो मिनिट में भरवाया पेट्रोल दूसरों को आधा घंटे तक भरवाया
हेलमेट को लेकर सख्ती के कारण पेट्रोल नहीं मिलने के चलते दिलचस्प स्थिति भी देखने को मिल रही है। मसलन एक, दूसरे से हेलमेट मांगकर तो वाहन चालक पेट्रोल भरवा ही रहे है, वहीं हेलमेट पहने एक सज्जन ने खुद तो दो मिनिट में अपनी एक्टिवा में पेट्रोल भरवा लिया, किन्तु इसके बाद वह आधा घंटे तक दूसरों को पेट्रोल भरवाने में ही उलझे रहे। दरअसल इस दौरान अन्य वाहन चालक पेट्रोल भरवाने उनसे लगातार हेलमेट मांगते रहे, जब बहुत ज्यादा देर हो गई तो उक्त सज्जन झल्ला उठे और अपना हेलमेट छीनकर ले गए।
फिर सजीं हेलमेट की दुकानें
हेलमेट को लेकर सख्ती शुरु होने के बाद एक बार फिर हेलमेट की दुकानें शहर में सज गईं है। जहाँ दुकानों पर हेलमेट रखे देखे जा सकते है, वहीं फुटपाथ पर भी यह बिक्री के लिए उपलब्ध है। कई दुकाने तो पेट्रोल पंपों के पास ही लगी हुई है। गौरतलब है कि पूर्व में जब हेलमेट को लेकर जबर्रदस्त सख्ती की गई थी, तब भी शहर में हेलमेट की दुकानें कुकरमुत्तों की तरह ऊग आईं थीं, बाद में इस मामले में ढीलपोल होने के बाद दुकाने भी गायब हो गईं थीं। जो अब फिर दिखने लगीं है।
गुणवत्ता हुई दरकिनार
फिलहाल अभियान में सिर्फ हेलमेट को प्राथमिकता दी जा रही है, गुणवत्ता को दरकिनार किया जा रहा है। दरअसल 100 और 150 रुपए में सिर्फ नाम के हेलमेट लोग खरीद रहे है, जो जोर से दबाते ही चटक जाते है। इस हेलमेट को पहनने का कोई मतलब नहीं रह जाता है। उत्तम गुणवत्ता का हेलमेट 400 से 500 रुपए का आता है। सुरक्षा के लिहाज से इसे ही पहना जाना चाहिए।

Updated : 2016-02-09T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top