Latest News
Home > Archived > भिण्ड में खुले विकास के द्वार, सैनिक स्कूल भी खुलेगा

भिण्ड में खुले विकास के द्वार, सैनिक स्कूल भी खुलेगा

भिण्ड को मुख्यमंत्री ने दीं कई सौगातें, रेलवे परिसर में हुई विशाल आमसभा में उमड़ा जनसैलाब

भिण्ड को मुख्यमंत्री ने दीं कई सौगातें, रेलवे परिसर में हुई विशाल आमसभा में उमड़ा जनसैलाब


भिण्ड। 31 साल बाद पूरी हुई गुना-इटावा रेल लाइन का शनिवार को मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह व रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने उद्घाटन करते हुए हरी झण्डी दिखाई। इस अवसर पर जनता को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भिण्ड में रेललाइन की शुरुआत से यहां के विकास पथ का रास्ता खुलेगा, जिसमें स्थानीय निवासियों को आवागमन की सुविधा मिलते हुए यहां रोजगार के संसाधन में बढ़ोतरी होगी।

उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार मप्र में रेलवे के विस्तार को लेकर कई योजनाएं तैयार कर रही है जिसके तहत राज्य को इस बार के रेल बजट में 4200 करोड़ रुपए दिए हैं। उन्होंने कहा कि इस रेल मार्ग के आरंभ होने का लाभ जिले के अलावा अंचल और प्रदेश को भी मिलेगा। अब स्थानीय स्तर पर कई रोजगार के अवसर पैदा होने से राज्य भी विकसित होगा। इस अवसर पर केन्द्रीय कोयला एवं खनिज मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, कैबिनेट मंत्री मायासिंह, राज्यमंत्री लालसिंह आर्य, सांसद डॉ भागीरथ प्रसाद, विधायक नरेन्द्र सिंह कुशवाह सहित उत्तर मध्य रेल इलाहबाद जीएम एके सक्सेना, झांसी मण्डल डीआरएम अग्रवाल सहित रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।

इस अवसर पर रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि गुना-इटावा रेललाइन परियोजना पूर्व की सरकारों की लापरवाही के चलते लेट होती रही, लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सभी लंबित योजनाओं को जल्द से जल्द पूरा करने का संकल्प लिया। इसके तहत गुना-इटावा रेललाइन का आरंभ किया जा रहा है। इस दौरान उन्होने बताया कि स्थानीय सांसद डॉ. भागीरथ प्रसाद द्वारा जिले में रेलवे के विकास को लेकर प्रयास किए, जिसके परिणामस्वरूप रेल बजट में भिण्ड-लहार-कोंच रेल लाइन को स्वीकार कर लिया गया। इसके तहत इस रूट को विकसित करने जल्द ही काम आरंभ किया जाएगा।

कार्यक्रम के दौरान केन्द्रीय इस्पात एवं खनिज मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि वर्षों इंतजार के बाद भिण्ड-इटावा रेल सुविधा से जुड़ गया है। साथ ही इस क्षेत्र में रेल की सुविधा के लिए दिनोंदिन तरक्की के द्वार खोले जा रहे है। उन्होंने कहा कि पूर्व में भिण्ड क्षेत्र डकैतों के नाम से जाना जाता था, जहां शिवराज के नेतृत्व में अब विकास के द्वार खुल गए हैं।

स्वयं उद्यमी बने प्रदेश का युवा
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि रोजगार देने की पहल करते हुए राज्य में मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के अंतर्गत युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान किए जा रहे है। जिसके तहत युवाओं को स्वयं का रोजगार स्थापित करने के लिए 10 लाख से लेकर एक करोड़ रुपए तक का ऋण बगैर किसी गारंटी के उपलब्ध कराया जा रहा है।

शिक्षा के अवसरों में बढ़ोतरी
इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के छात्रों को कक्षा एक से 12वीं तक किताबें, साइकिल, गणवेश मप्र सरकार द्वारा प्रदान की जा रही है।
इसके साथ ही अजा, अजजा एवं अपिव के अलावा सामान्य वर्ग के गरीब व्यक्तियों को छात्रवृत्ति देने की सुविधा मुहैया कराई जा रही है।

अच्छे दिन की कल्पना हुई साकार
सामान्य प्रशासन राज्यमंत्री लालसिंह आर्य ने लालसिंह आर्य ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश के विकास में अहम भूमिका अदा कर रहे हैं जिसके कारण अच्छे दिन की परिकल्पना साकार हो रही है।
जिले में बनेगा सैनिक स्कूल
आयोजित कार्यक्रम के दौरान स्थानीय सांसद डॉ. भागीरथ प्रसाद ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह से मांग करते हुए कहा कि जिले में सबसे अधिक नौजवान सेना में भर्ती होकर सरहद की रक्षा करते है। लेकिन अब यहां के युवा सेना में उच्च पदों पर जाना चाहते है, इसलिए जिले में एक सैनिक स्कूल की स्थापना की जानी चाहिए। इस मांग को स्वीकार करते हुए मुख्यमंत्री ने जल्द ही इस संबंध में कार्य योजना बनाने का आश्वासन दिया।
विकास कार्यों को दी मंजूरी
कार्यक्रम में भाजपा विधायक नरेन्द्र सिंह कुशवाह द्वारा जिले के अंतिम छोर पर बने गांवों में विकास के लिए टेहनगुर-हिलगवां में सिंध नदी पर एक पुल बनाने की मांग की, जिसे स्वीकार करते हुए शिवराज सिंह ने इस योजना के लिए 45 करोड़ रुपए की स्वीकृति प्रदान की। इसके साथ ही उन्होंने भिण्ड में बेघरबार गरीबों के लिए आवास बनाए जाने के लिए 27 करोड़ 45 लाख रुपए स्वीकृत किए जाने की बात कही जिस पर विधायक कुशवाह ने मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया।

ये दीं सौगातें


प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भिण्ड-इटावा सवारी गाड़ी के शुभारंभ समारोह में सांसद डॉ. भागीरथ प्रसाद व भिण्ड विधायक नरेन्द्र सिंह
कुशवाह की मांग पर तमाम सौगातें भिण्ड को प्रदान कीं। उन्होंने भिण्ड में जल्द सैनिक स्कूल की स्थापना, सीवर प्रोजेक्ट को पूरा करने का मंच से आह्वान किया। उन्होंने कहा कि नौजवानों को बेहतर शिक्षा प्रदान करने की दिशा में भिण्ड में सैनिक स्कूल खोलने, भिण्ड शहर के नागरिकों की सुविधा के लिए सुभाष तिराहा से इन्दिरा गांधी चौराहा तक सड़क निर्माण कराने, कनेरा क्षेत्र के किसानों की जमीन में पानी की सुविधा प्रदान करने की दिशा में कनेरा सिंचाई परियोजना को प्रारंभ कराने, भिण्ड शहर में 102 करोड़ की लागत से सीवर लाइन की स्वीकृति, टेहनगुर-हिलगंवा पुल निर्माण के लिए 45 करोड़ रुपए की स्वीकृति, शहरी गरीबों को 27 करोड़ 45 लाख रुपए के मकान प्रदान करने और 90 करोड़ रुपए की लागत से नहरों का सुदृढ़ीकरण की सौगातें दीं।

यह नेता रहे उपस्थित

भिण्ड-इटावा रेल लाइन के शुभारंभ अवसर पर प्रमुख नेता मंचासीन रहे। जिसमें भिण्ड जिले की प्रभारी मंत्री मायासिंह, विधायक चौ. मुकेश सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष संजीव कांकर, पूर्व विधायक मुन्नासिंह भदौरिया, पूर्व विधायक रसाल सिंह, पूर्व विधायक अरविन्द सिंह भदौरिया, पूर्व विधायक राकेश शुक्ला, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य डॉ. सुशील गुप्ता, राज्य महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष श्रीमती कृष्णकांता तोमर, पूर्व विधायक श्रीराम जाटव, पूर्व जिलाध्यक्ष केशव सिंह भदौरिया, अवधेश सिंह कुशवाह, नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती कलावती मिहोलिया, पूर्व जिला महामंत्री मायाराम शर्मा, कोकसिंह नरवरिया, मेहगांव कृषि मण्डी अध्यक्ष देवेन्द्र सिंह नरवरिया, जिला पंचायत अध्यक्ष रामनारायण हिण्डोलिया, युवा मोर्चा अध्यक्ष मनोज शिवहरे, विष्णु प्रताप सिंह आदि उपस्थित रहे।

Updated : 2016-02-28T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top