Top
Home > Archived > कन्हैया के लिए समर्थन जुटाने हुई थी संगोष्ठी

कन्हैया के लिए समर्थन जुटाने हुई थी संगोष्ठी

वीडियो फुटेज से सच्चाई आई सामने


ग्वालियर। विगत 21 अप्रैल को बालभवन में अम्बेडकर विचार मंच नामक संस्था द्वारा 'अम्बेडकर के सपनों का भारत' विषय पर आयोजित संगोष्ठी की आड़ में जेएनयू में देशद्रोह के आरोपी छात्र के लिए समर्थन जुटाने का प्रयास किया गया।

शुक्रवार को भाजयुमो द्वारा इस कार्यक्रम का एक वीडियो फुटेज जारी किया गया है, जिसमें एक वक्ता को कन्हैया के समर्थन में भाषण देते हुए सुना गया है। जारी वीडियो में वक्ता को समाज में जातिगत मतभेद पैदा करने वाला भड़काऊ भाषण देते सुना जा सकता है। वक्ता कह रहा है कि 'आज हमारे युवाओं पर देशद्रोही मुकदमे दर्ज किए जा रहे हैं। होशियार लड़के हैं रोहित जैसे उनको आत्महत्या के लिए प्रेरित किया जा रहा है। हमारे भाई जो सर्विस में हैं, उन्हें परेशान किया जा रहा है। छात्र-छात्राओं का शोषण हो रहा है। हमारे समाज के बुद्धिजीवी वर्ग को परेशान किया जा रहा है।

गांव में हमारे समाज के लोगों को जीने नहीं दिया जा रहा है। उन्हें मजदूरी नहीं करने दी जा रही है। रास्ते से निकलने नहीं दिया जा रहा है। हम लोग क्या कर रहे हैं। अभी हमारे साथियों ने कहा कि बाबा साहब अम्बेडकर की बजह से आज हमारे लोग सक्रिय हैं। बाबा साहब के समय भी हमारे समाज में चमचे लोग थे और आज भी हमारे समाज में चमचे हैं। जो उस चीज को दरकिनार करते हैं।'

भाषण में आगे सुना जा सकता है कि 'कितने साथी हैं जो कन्हैया के समर्थन में आए हैं। आज हमारे लोगों को एकजुट होना है। किसी विचारधारा, किसी मजहब के हों। हम लोग जयभारत अम्बेडकर की क्या सब्जियां बनाएंगे आज हमारे साथी पर इल्जाम है वह कन्हैया है। वह अपना अधिकार मांगने के लिए खड़ा हुआ तो उस पर देशद्रोह का मुदद्मा चलाया जाता है।

Updated : 2016-02-27T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top