Latest News
Home > Archived > भाई की परीक्षा देते युवक को पकड़ा

भाई की परीक्षा देते युवक को पकड़ा

पुलिस ने दोनों भाईयों को 420 में भेजा जेल

फीरोजाबाद। डीएवी इंटर कॉलेज में बडे भाई के स्थान पर परीक्षा दे रहे छोटे भाई को थाना उत्तर पुलिस ने गिरफ्तार करने के बाद दोनों को जेल भेजा गया है।
दोपहर की पाली में इंटरमीडिएट हिंदी द्वितीय प्रश्नपत्र की परीक्षा थी। डीएवी इंटर कॉलेज के केंद्र व्यवस्थापक डा. उपेंद्रनाथ शर्मा कक्ष नंबर एक में भ्रमण पर गये तो एक परीक्षार्थी को कॉपी में तल्लीनता से लिखते देखा। उत्सुकतावश उन्होंने छात्र की कॉपी देखने के लिये ले ली।


उन्होंने सवालों के जबाव सटीक देखे तो चौंक गये। संस्कृत में यह जबाव ग्रेजुएशन स्तर का था। संदेश पर उन्होंने परीक्षार्थी का प्रवेश पत्र उठाया, तो उस पर अरविंद पुत्र राजवीर सिंह नाम लिखा था, लेकिन फोटो नहीं था। डा. शर्मा की नजर उसके हाथ पर गुदे विनोद कुमार की तरफ गई तो वह रोने लगा। परीक्षार्थी ने खुद को रुधऊ निवासी विनोद कुमार बताते हुये कहा कि वह अरविंद का भाई है। उसनेे े2014 में इंटर उत्तीर्ण की है। इसके बाद केंद्र व्यवस्थापक ने परीक्षार्थियों की लिस्ट की जांच करवाई तो उसमें अरविंद का पता पहचान लिखा था। जांच में पता चला पचवान से ही कक्ष संख्या तीन में वीरपाल पुत्र राजवीर सिंह परीक्षा दे रहा है। यह भी पता चला कि वीरपाल ही अरविंद का भाई है, तो केंद्र व्यवस्थापक ने उसे बुलवाया, मगर यहां भी वीरपाल की जगह अरविंद परीक्षा दे रहा था। पूछताछ में पता चला कि थाना नारखी के गांव रूधऊ निवासी 20 वर्षीय अरविन्द कुमार पुत्र रामवीर सिंह नगर के नवयुग इण्टर कालेज में इण्टर की पढाई कर रहा था। अरविन्द ने विद्यालय प्रशासन की मिली भगत के चलते अपने प्रवेश पत्र पर छोटे भाई 18 वर्षीय विनोद कुमार को फोटो चस्पा करा दिया। जो कि अरविन्द के स्थान पर बिनोद परीक्षा दे सके। शनिवार की सांय परीक्षा देते समय किसी की शिकायत पर विनोद को मौके से पकड़ लिया गया। दोनों छात्रों को पुलिस के सुपुर्द कर दिया। जिसके खिलाफ विद्यालय के लोगों ने शिकायत थाने में की पुलिस ने दोनों भाईयों के खिलाफ 420 का अभियोग दर्ज कर जेल भेजा है।

Updated : 2016-02-22T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top