Top
Home > Archived > साइकिल चलाने से स्वस्थ रहता है शरीर

साइकिल चलाने से स्वस्थ रहता है शरीर

जिलाधीश ने साइकिल रैली को झंडी दिखाकर रवाना किया


ग्वालियर। साइकिल चलाने से शरीर स्वस्थ रहता है और पर्यावरण की भी रक्षा होती है। ईधन की बचत का पैसा हम विकास पर खर्च कर सकते हैं। यह बात शनिवार को जिलाधीश डॉ संजय गोयल ने साइकिल रैली को रवाना करते समय कही। भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के तत्वावधान में अखिल भारतीय साइकिल रैली अभियान के तहत इस रैली को डॉ. गोयल ने झंडी दिखाकर ग्वालियर से कोटा के लिए रवाना किया।


ग्रीन इंडिया-क्लीन इंडिया अभियान के तहत स्वच्छता एवं पर्यावरण सुधार को बढ़ावा देने के मकसद से भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के तत्वावधान में दिल्ली से शुरू हुई यह साइकिल रैली शुक्रवार की शाम ग्वालियर पहुंची थी। शनिवार को सुबह होटल आदित्याज परिसर से जिलाधीश सहित अन्य अतिथियों ने झण्डी दिखाकर कोटा के लिए रवाना किया।


डॉ. गोयल ने कहा कि साइकिल से बचपन का एहसास होता है। साथ ही यह हमें निरोगी भी रखती है। उन्होंने कहा कि अच्छे स्वास्थ्य के लिए केवल अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त अस्पताल ही जरूरी नहीं है। जरूरत इस बात की भी है कि हम स्वयं के स्वास्थ्य के प्रति सजग रहें। इसके लिए साइकिल एक बहुत अच्छा माध्यम है। उन्होंने इस मौके पर बाहर से आए साइकिल सवारों को मध्यप्रदेश की खूबसूरती एवं खूबियों के बारे में भी बताया।


साइकिलिंग की वजह से खासी लोकप्रियता हासिल कर चुके भविष्य निधि आयुक्त रिजवानउद्दीन ने इस मौके पर कहा कि साइकिल से खुद का भला तो होता ही है, साथ ही हम ईधन की बचत कर देश का भी भला कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि जीवन में खुशी और रोमांच महत्वपूर्ण है। साइकिल हमें यह सब मुहैया कराती है। डॉ. जे.एस. नामधारी ने कहा कि चिकित्सकीय एवं पर्यावरण की दृष्टि से साइकिल का कोई मुकाबला नहीं है। इससे हृदय मजबूत होता है। कार्यक्षमता बढ़ती है। साथ ही ऊर्जा पर होने वाला खर्च बचता है। कार्यक्रम के आरंभ में राजमाता विजयाराजे सिंधिया टर्मिनल भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण ग्वालियर के निदेशक प्रमोद कुमार शर्मा ने स्वागत उद्बोधन दिया।


1600 कि.मी. की यात्रा तय करेगी साइकिल रैली
ग्रीन इंडिया-क्लीन इंडिया अभियान के तहत स्वच्छता एवं पर्यावरण सुधार को बढ़ावा देने के मकसद से भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के तत्वावधान में दिल्ली से शुरू हुई यह साइकिल रैली पांच चरणों में ग्वालियर, कोटा, उदयपुर एवं जयपुर होती हुई वापस नई दिल्ली पहुंचेगी। यह रैली देश के पांच राज्यों एवं 20 प्रमुख शहरों से होते हुए कुल 1600 कि.मी. की यात्रा 23 दिन में पूर्ण करेगी। ग्वालियर से कोटा के लिए रवाना हुई रैली में 15 साइकिल सवार शामिल हैं।

Updated : 2016-02-21T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top