Home > Archived > दालों का कारोबार हुआ सुस्त

दालों का कारोबार हुआ सुस्त

दालों का कारोबार हुआ सुस्त
X

ग्वालियर। नोटबंदी के बाद से बाजार और मण्डियों में कामकाज सुस्त हो गया है। किसानों को पैसा नहीं मिलने के कारण वह मण्डियों में आने से कतराने लगे हैं। मण्डियों ने जिंसों की आवक कम हो रही है। मांग कम होने के कारण दालों में सुस्ती बनी हुई है। सरकार के पास दालों का भरपूर स्टॉक होने और मांग कम होने के कारण दालों का कारोबार सुस्त है। वहीं सब्जियां सस्ती होने के कारण लोग दालों की अपेक्षा सब्जियां खरीद रहे हैं। जिससे दालों के दामों में नरमी बनी हुई है। कारोबारियों के अनुसार नोटबंदी के कारण दालों का कारोबार बहुत सिमट गया है।

वायदा बाजार मेंसरसों तेज हुई
वायदा बाजार में बुधवार को सरसों में तेजी देखने को मिली। वायदा बाजार में सरसों 4738 से उछलकर 4746 रुपए पर पहुंच गई। जबकि जनवरी सरसों में गिरावट देखने को मिली। किसानों के पास सरसों का स्टॉक कम हो गया है। सरसों व्यापारी बची हुई सरसों को दबाकर बैठे हैं। इन व्यापारियों को इंतजार है कि सरसों के दामों में तेजी आ सकती है, जिससे वह इसे बेचकर अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं।

Updated : 2016-12-08T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top