Top
Home > Archived > केडी हॉस्पिटल में महिला के गुर्दे से निकाली 40 एमएम की पथरी

केडी हॉस्पिटल में महिला के गुर्दे से निकाली 40 एमएम की पथरी

मथुरा। गुर्दे में पथरी के उपचार को पिछले चार माह से परेशान संतोष (20) पत्नी महिपाल सिंह निवासी मथुरा को केडी मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल और रिसर्च सेण्टर के विशेषज्ञ चिकित्सकों ने राहत प्रदान की है। केडी हॉस्पिटल के यूरोलाजिस्ट सर्जन डा. अनुराग गुप्ता ने दूरबीन विधि से ऑपरेशन कर न केवल संतोष के दाएं गुर्दे से 40 एमएम की पथरी निकालीं बल्कि पस की गांठ भी निकाल कर उसके चेहरे पर मुस्कान लौटा दी है।

ओमनगर, जन्मभूमि लिंक रोड मथुरा निवासी संतोष पत्नी महिपाल सिंह पिछले चार माह से पेट में होते असहनीय दर्द से परेशान थी। परेशानी से निजात के लिए उसने फरीदाबाद, कोसीकलां के डॉक्टरों से सम्पर्क किया लेकिन उसे कोई लाभ नहीं मिला। 21 दिसम्बर को अनायास हुए पेट दर्द से परेशान संतोष केडी हॉस्पिटल के गुर्दा और मूत्ररोग विशेषज्ञ सर्जन डा. अनुराग गुप्ता से मिली। पीडि़त संतोष ने बताया कि वह लम्बे समय से पेट दर्द से परेशान है। यूरोलाजिस्ट डा. गुप्ता ने संतोष का अल्ट्रासाउण्ड, आईबीपी सहित विभिन्न जांचें करवाई। जिनसे पता चला कि उसके गुर्दे में कई पथरियों के साथ ही मवाद की बड़ी गांठ भी है जिसके चलते उसका गुर्दा चोक हो रहा है। विभिन्न जांचों का अध्ययन करने के बाद आखिरकार डा. गुप्ता ने संतोष के ऑपरेशन का निर्णय लिया।

डा. अनुराग गुप्ता, डा. संजय चौधरी, निश्चेतना विशेषज्ञ डा. सोनी जसूजा की टीम ने 23 दिसम्बर, शुक्रवार को संतोष के दाएं गुर्दे का दूरबीन विधि (पीसीएनएल) से सफल ऑपरेशन कर पांच पथरियों के साथ-साथ मवाद की गांठ भी निकाल दी। अब संतोष का गुर्दा पुन: काम करने लगा है। डा. गुप्ता का कहना है कि संतोष के बाएं गुर्दे में कई बड़ी-बड़ी पथरी होने से उसका गुर्दा चोक हो गया था। अब संतोष स्वस्थ है। संतोष के पति महिपाल सिंह ने केडी हॉस्पिटल के डाक्टरों का आभार मानते हुए कहा कि नि:शुल्क जांचें होने से उसे आर्थिक मदद तो मिली ही और उसकी पत्नी भी ठीक हो गई है। आरके एजूकेशन हब के चेयरमैन डा. रामकिशोर अग्रवाल, प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल और कालेज की डीन डा. मंजुला बाई केएच ने संतोष के सफल ऑपरेशन के लिए डाक्टरों की टीम को बधाई देते हुए मरीज की उचित देखभाल के निर्देश दिए। डीन डा. मंजुला बाई का कहना है कि केडी हॅास्पिटल ब्रज मण्डल में अपने सेवाभाव और कम से कम पैसे में मरीजों को राहत प्रदान कर एक नजीर स्थापित कर रहा है। विशेषज्ञ चिकित्सकों और बेहतर सुविधाओं के चलते यहां दूर-दूर से मरीज आ रहे हैं और स्वस्थ होकर अपने-अपने घर जा रहे हैं।

अन्य ख़बरे...

बेटे को हक दिलाने के लिए बाल आयोग पहुंचा पिता

मोटो एम हुआ लॉन्च, 4GB RAM और 64GB है मेमोरी

Updated : 2016-12-29T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top