Home > Archived > फिर आई ट्रेनों में तकनीकी खराबी, यात्रियों की धडक़नें बढ़ी

फिर आई ट्रेनों में तकनीकी खराबी, यात्रियों की धडक़नें बढ़ी

झांसी। ट्रेनों में तकनीकी खराबियां रुकने का नाम नहीं ले रहीं है। एक के बाद एक ट्रेन में आ रही गड़बडिय़ों से यात्रियों की धडक़नें बढ़ी हुई हैं। ऐसा तब हुआ जब हरिद्वार से पुरी जाने वाली उत्कल एक्सप्रेस व तेलंगाना एक्सप्रेस में तकनीकी खराबी आई। जिस कारण झांसी आने में वह कई बार रुकी। इसको लेकर यात्रियों में दहशत का माहौल बना रहा।

हुआं यूं कि हरिद्वार से पुरी जाने वाली ट्रेन 18478 उत्कल एक्सप्रेस अपनी गति से आ रही थी। यात्रियों की मानें तो ट्रेन जब होम सिग्नल पर पहुंची तो अचानक दतिया और झांसी के बीच चल रही थी तभी खम्भा नम्बर 1140/17 पर ट्रेन अचानक खड़ी हो गई। पहले यात्रियों ने समझा कि ट्रेन चेन पुलिंग के कारण रुकी है। लेकिन जैसे ही कुछ कुछ चलने के बाद अचानक फिर रुक गई। यह देख यात्री घबरा गये। इसकी सूचना आरपीएफ और जीआरपी को दी गई। सूचना मिलते ही आरपीएफ प्लेटफार्म क्रमांक 2 पर पहुंची और ट्रेन के गार्ड पी के गुप्ता से स्थिति जानने की कोशिश की, तो उन्होने बताया कि प्रेशर होने के कारण ट्रेन में बार-बार एसीपी हो रही है। जिस कारण ट्रेन आगे नहीं बढ़ पा रही है।

पूछतांछ कर सीएनडब्लू को इसके बारे में अवगत कराया गया और तब खराबी को दूर किया गया। इसी प्रकार एपी एक्सप्रेस(तेलंगाना एक्सप्रेस) भी रूक-रूक कर आगे बढ़ती नजर आई इस प्रकार की ट्रेनों के रूक-रूक कर चलने पर यात्रियों में भय व्याप्त है कि ट्रेनों का रूक-रूक कर चलना कहीं पहले जैसे हादसे का इशारा तो नहीं। हालांकि सम्बन्धित विभाग द्वारा यात्रियों की शिकायत पर गाडिय़ॉं चेक कराकर अपने-अपने गनतब्य के लिए रवाना कर दी गईं है।

Updated : 12 Dec 2016 12:00 AM GMT
Next Story
Top