Top
Home > Archived > केडी हॉस्पिटल में बच्चे के फेफड़े का हुआ सफ ल ऑपरेशन

केडी हॉस्पिटल में बच्चे के फेफड़े का हुआ सफ ल ऑपरेशन

शिशु शल्य चिकित्सक श्याम बिहारी शर्मा की कामयाबी, जहीर का नि:शुल्क हो रहा है उपचार

मथुरा। केडी मेडिकल कालेज हॉस्पिटल और रिसर्च सेण्टर में शिशु शल्य चिकित्सक श्याम बिहारी शर्मा ने गांव अमरूका, तहसील पहाड़ी, जिला भरतपुर निवासी पप्पू के दो वर्षीय पुत्र जहीर के फेफड़े का ऑपरेशन करने में सफलता हासिल की है। बच्चा अब पूरी तरह से स्वस्थ है।

राजस्थान के भरतपुर निवासी पप्पू का पुत्र जहीर सांस की तकलीफ और बुखार से लम्बे समय से पीडि़त था जिसका पहले तो अलवर, भरतपुर, जयपुर आदि में उपचार करवाया गया लेकिन बच्चे को कोई लाभ नहीं मिला। अंत में पप्पू अपने बेटे को लेकर के.डी. मेडिकल कालेज-हास्पिटल और रिसर्च सेण्टर के शिशु शल्य चिकित्सक श्याम बिहारी शर्मा से मिला। डा. शर्मा को बच्चे की सोनोग्राफी, सीटी स्कैन आदि जांचों के बाद पता चला कि बच्चा एम्पाइमा थोरेसिस आर्गेनाइज्ड स्टेज (बाएं फेफड़े में मवाद भरना) से पीडि़त है। डा. शर्मा का कहना है कि जहीर का बायां फेफड़ा सड़ गया था तथा उसमें मवाद भरी थी लिहाजा दवाओं से उसका उपचार नामुमकिन था।

आखिरकार गुरुवार 24 नवम्बर को शिशु शल्य चिकित्सक श्याम बिहारी शर्मा ने बच्चे का ऑपरेशन किया। डा. शर्मा ने बच्चे के बाएं फेफड़े का सड़ा हुआ हिस्सा और मवाद निकाल कर उसे नया जीवन दिया। इस ऑपरेशन में डा. आशुतोष सिंह, डा. केके गुप्ता, निश्चेतना विशेषज्ञ डा. पिंकी रतनानी आदि ने मदद की। बच्चा अब पूरी तरह से स्वस्थ है। बच्चे के पिता पप्पू ने कहा कि केडी मेडिकल कालेज हॉस्पिटल और रिसर्च सेण्टर में उनके बच्चे की सभी जांचें और ऑपरेशन नि:शुल्क होने से उन्हें बड़ी राहत मिली है। मैं अस्पताल प्रबंधन का शुक्रगुजार हूं कि उसने मेरे बेटे को नि:शुल्क उपचार देकर उसकी जान बचाई है।

आरके एजूकेशन हब के चेयरमैन डा. रामकिशोर अग्रवाल और प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल ने बच्चे के फेफड़े का सफल ऑपरेशन करने वाली डाक्टरों की टीम को बधाई देते हुए उसकी उचित देखभाल के निर्देश दिये हैं। गौरतलब है कि केडी मेडिकल कालेज हॉस्पिटल और रिसर्च सेंटर में नि:शुल्क उपचार होने से अब तक जनपद मथुरा और उसके आसपास के जिलों के हजारों मरीज लाभान्वित हो चुके हैं।

Updated : 2016-11-29T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top