Top
Home > Archived > सीबीएसई दसवीं के विद्यार्थियों को देना होगी बोर्ड परीक्षा

सीबीएसई दसवीं के विद्यार्थियों को देना होगी बोर्ड परीक्षा

अगले सत्र से लागू हो सकती है व्यवस्था

ग्वालियर। सीबीएसई एक बार फिर से कक्षा दसवीं में बोर्ड परीक्षा से जोडऩे की तैयारी कर रहा है। यह व्यवस्था अगले शिक्षा सत्र 2017-18से लागू हो सकती है। उल्लेखनीय है कि वर्तमान में सीबएसई में ग्रेडिंग पद्धति लागू है। इसके अनुसार वर्ष भर के प्रदर्शन के अनुसार विद्यार्थियों को ग्रेड दिया जाता है तथा इसके अनुसार किसी को अनुतीर्ण नहीं किया जाता। इसके साथ ही बच्चों को सीधे 12वीं कक्षा में ही बोर्ड परीक्षा देना होती है जिसमें बच्चों को नंबर देकर पास या फेल कर दिया जाता है।

सूत्रों की मानें तो सीबीएसई ने अब 9वीं कक्षा की परीक्षा में भी बदलाव करने का मन बना लिया है, इससे वर्ष 2018 में 10वीं की बोर्ड परीक्षा में शामिल होने वाले छात्र प्रभावित होंगे। वहीं नए दिशा निर्देशों के अनुसार वर्ष 2017 में 9वीं कक्षा के जो छात्र अनुत्तीर्ण हो जाएंगे, वह 2018 की 10वीं बोर्ड परीक्षा के लिए अपना पंजीयन नहीं करा सकेंगे अभी जो नियम बने हैं उसके आधार पर कक्षा 9वीं के छात्रों को अनुत्तीर्ण नहीं किया जाता है। लेकिन अब जो छात्रा कक्षा 9वीं पास करेंगे वही10वीं की परीक्षा दे सकेंगे।

छह वर्ष पहले खत्म किया था बोर्ड
सीबीएसई ने छात्रों से मानसिक दबाव हटाने के लिए छह वर्ष पहले 10वीं में बोर्ड परीक्षा को खत्म कर दिया था। लेकिन अब फिर से इसे लागू किया जा रहा है। यह नियम वर्ष 2018 में 10वीं की परीक्षा देने वाले छात्रों पर ही लागू होगा।

फीस के लिए बनेंगे कड़े नियम
सूत्रों की मानें तो सीबीएसई स्कूलों की बढ़ती फीस पर अंकुश लगाने के अब बड़े स्तर पर मंथन चल रहा है। आगामी समय में इसमें अवश्य ही अंतर देखने को मिलेगा।

‘‘अगले सत्र से सीबीएससी 10वीं की बोर्ड परीक्षाएं होंगी। जो छात्र कक्षा 9वीं में हैं वह 2018 में सीबीएससी 10वीं बोर्ड की परीक्षा में शामिल होंगे।’’

राजेश्वरी सावंत
ग्वालियर सहोदया अध्यक्ष व प्राचार्य ग्वालियर ग्लोरी स्कूल

Updated : 2016-11-20T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top