Home > Archived > धनतेरस पर महाराज बाड़ा और सराफा में रहेगी कड़ी सुरक्षा

धनतेरस पर महाराज बाड़ा और सराफा में रहेगी कड़ी सुरक्षा

तीसरी आंख रखेगी नजर, वाहनों के प्रवेश पर रहेगी रोक

ग्वालियर। धनतेरस पर्व को शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न कराने के लिए पुलिस ने योजना तैयार कर ली है। इस दौरान सबसे अधिक महाराज बाड़ा और सराफा बाजार व्यस्त रहेंगे। इसके चलते यहां कड़े सुरक्षा इंतजाम किए जाएंगे। यहां होने वाली भीड़ पर पुलिस की खास नजर रहेगी। महिला पुलिसकर्मियों को भी यहां सादे कपड़ों में तैनात किया जाएगा ताकि वारदातों को रोका जा सके। उल्लेखनीय है कि 28 अक्टूबर को धनतेरस के बाद 29 को छोटी दीपावली और 30 अक्टूबर को दीपावली है। इन तीन दिनों में शहर के प्रमुख बाजारों में खरीदारी करने वालों की भी भीड़ उमड़ती है। इसके चलते किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए पुलिस ने पूरी तैयारी कर ली है।

संदिग्ध रहेंगे निशाने पर
इस दौरान विशेष रूप से पुलिस संदिग्धों पर निगाह रखेगी। वहीं महाराज बाड़ा और सराफा बाजार समेत इनसे सटे अन्य बाजारों में दो व चार पहिया वाहनों का प्रवेश रोकने के लिए भी बैरियर लगाए जाएंगे। इसके अलावा दीपावली पर पुलिस गश्त बढ़ाई जाएगी। ताकि किसी भी तरह का विवाद न हो सके। सुरक्षा को लेकर पुलिस अधीक्षक ने सभी पुलिस अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि धनतेरस, दीपावली पर शांति व्यवस्था भंग करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

प्रमुख बाजारों पर रहेगी नजर
धनतेरस के दिन से शहर के सभी प्रमुख बाजारों में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रहेगी। इसके साथ ही यहां कैमरों से निगरानी की जाएगी। सोना-चांदी की खरीदारी की परंपरा को देखते हुए यहां सुरक्षा के हर इंतजाम कड़े होंगे। सराफा बाजार के सभी व्यापारियों के साथ बैठक में पुलिस को कारोबारियों ने आश्वस्त किया है कि वे सभी सुरक्षा व्यवस्था में सहयोग करेंगे। इसमें धनतेरस के बाजार के हर पहलू पर चर्चा की गई। पुलिस के अनुसार धनतेरस के मौके पर यहां अतिरिक्त पुलिस बल लगाया जाएगा। सीसीटीवी कैमरे से मार्केट की निगरानी की जाएगी।

एक हजार जवानों की तैनाती

दीपावली सुरक्षा के लिए पुलिस के एक हजार जवान शहर के प्रमुख बाजारों में तैनात किए जाएंगे। इनमें महिला पुलिस कर्मी समेत होमगार्ड के जवानों की सेवा भी ली जाएंगी। वहीं पीसीआर वेन और एफआरबी में सशस्त्र जवान मौजूद रहेंगे। भीड़भाड़ वाले स्थान पर डॉग स्कवॉड और बम डिस्पोजल की टीम मौके पर मौजूद रहेगी। पुलिस मुख्यालय भोपाल से स्थानीय पुलिस विभाग को स्पष्ट निर्देश मिले हैं कि सुरक्षा में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी जाए।

Updated : 2016-10-27T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top