Home > Archived > धर्मशाला में भारत-न्यूजीलैंड मैच में टॉस का नहीं होगा अहम रोल

धर्मशाला में भारत-न्यूजीलैंड मैच में टॉस का नहीं होगा अहम रोल

धर्मशाला में भारत-न्यूजीलैंड मैच में टॉस का नहीं होगा अहम रोल
X

धर्मशाला। धर्मशाला में भारत बनाम न्यूजीलैंड के बीच खेले जाने वाले वन-डे सीरिज के पहले मैच में टॉस जीतने वाली टीम को कोई खास फायदा नहीं मिलेगा। यह कहना है हिमाचल प्रदेश क्रिकेट संघ के चीफ पिच क्यूरेटर और बीसीसीआई के मैदान व पिच सदस्य सुनील चौहान का।

उन्होंने बताया कि एक दिवसीय मैच में पूरे 100 ओवर खेले जाते हैं। ऐसे में 100 ओवर में पिच का व्यवहार एक जैसा होना चाहिए यानि किसी को फायदा या नुकसान नहीं होना चाहिए। पिच ऐसी होनी चाहिए जिसमें दूसरी बार बल्लेबाजी करने वाली टीम के लिए भी वही परिस्थिति रहे जैसे पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम के लिए रही हो।

उन्होंने बताया 16 अक्तूबर को जो मैच भारत बनाम न्यूजीलैंड के बीच खेला जाएगा वह डे-नाइट का मुकाबला होगा और इन दिनों में ओस पडऩे की संभावना अधिक रहती है। हालांकि ओस पडऩे के समय तक करीब 80 प्रतिशत मैच तय हो चुका होता है कि कौन टीम जीत रही है। दूसरी टीम भी आधे से ज्यादा ओवर खेल चुकी होती है इस लिहाज से ओस का इतना ज्यादा प्रभाव नहीं होगा। वहीं उन्होंने बताया कि ओस से निपटने के लिए हिमाचल प्रदेश क्रिकेट संघ के पास चार सुपर सोकर हैं जोकि ओस को मैदान से पूरी तरह सुखा देने में सक्षम हैं।

Updated : 2016-10-13T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top