Top
Home > Archived > सीरीज में ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ आज जीत पक्की करने उतरेगा भारत

सीरीज में ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ आज जीत पक्की करने उतरेगा भारत

सीरीज में ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ आज जीत पक्की करने उतरेगा भारत

मेलबर्न | तीन मैचों की टी-20 श्रृंखला में आस्ट्रेलिया पर 1-0 की बढ़त हासिल कर चुकी भारतीय क्रिकेट टीम शुक्रवार को जब मेलबर्न क्रिकेट मैदान श्रृंखला का दूसरा मैच खेलने उतरेगी तो उसका उद्देश्य जीत हासिल कर श्रृंखला अपने नाम करने की रहेगी। भारतीय क्रिकेट टीम का जोर आज तीन मैचों की सीरीज अपने नाम करने पर होगा।
पहला मैच 37 रन से जीतकर सीरीज में 1-0 की बढ़त बनाने वाली भारतीय टीम इस दौरे पर पहली बार अपना दबदबा कायम कर सकी है। वनडे सीरीज के दौरान टीम में ऐसा आत्मविश्वास देखने को नहीं मिला था। भारत का इरादा दूसरे मैच के जरिये ही सीरीज अपने नाम करने का होगा ताकि सिडनी में आखिरी मैच में वह प्रयोग कर सके। ऑस्ट्रेलिया दौरे पर सिडनी में आखिरी वनडे के जरिये भारत ने जीत का स्वाद चखा। इसके बाद एडीलेड में पहला टी-20 जीता और अब टीम प्रबंधन इस लय को कायम रखना चाहेगा।
पहला मैच 37 रन से जीतकर श्रृंखला में 1-0 की बढ़त बनाने वाली भारतीय टीम इस दौरे पर पहली बार अपना दबदबा कायम कर सकी है। वनडे सीरीज के दौरान टीम में ऐसा आत्मविश्वास देखने को नहीं मिला था। भारत का इरादा दूसरे मैच के जरिये ही श्रृंखला अपने नाम करने का होगा ताकि सिडनी में आखिरी मैच में वह प्रयोग कर सके। आस्ट्रेलिया दौरे पर सिडनी में आखिरी वनडे के जरिये भारत ने जीत का स्वाद चखा। इसके बाद एडीलेड में पहला टी20 जीता और अब टीम प्रबंधन इस लय को कायम रखना चाहेगा। भारतीय खेमा अभी तक सही संयोजन नहीं तलाश सका है। कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने गुरकीरत मान और रिषि धवन को उतारकर अतिरिक्त स्पिनर को नहीं चुना। युवराज सिंह और सुरेश रैना का खेलना तय था जिससे धोनी के पास गेंदबाजी के विकल्प भी बढ़े। आर अश्विन ने पहले टी20 में वापसी की जबकि जसप्रीत बुमरा ने अपने पदार्पण मैच में प्रभावित किया।
गेंदबाजी अब भारत के लिये कोई समस्या नहीं लग रही और बल्लेबाजी क्रम लगभग तय है। अजिंक्य रहाणे हालांकि अभी तक पूरी तरह से फिट नहीं हैं। उन्होंने कल सिर्फ थ्रो डाउन का अभ्‍यास किया लिहाजा धोनी उन्हें लेकर कोई जोखिम नहीं उठाना चाहेंगे। एडीलेड में जीत के बाद धोनी ने स्वीकार किया कि अभी कई समस्यायें है लेकिन यह नहीं बताया कि वह क्या हल निकालेंगे। वह उसी एकादश को उतारेंगे जिससे युवराज और रैना पर फोकस रहेगा। रैना ने एडीलेड ओवल पर 34 गेंद में 41 रन बनाये। विराट कोहली के आक्रामक प्रदर्शन के दम पर भारतीय बल्लेबाजों को आखिरी दस ओवरों में कोई दिक्कत नहीं आई। रैना ने सहयोगी की भूमिका बखूबी निभाई। धोनी टी20 मैचों में बायें-दायें का संयोजन पसंद करते हैं। रैना को यदि पिछले मैच में मौका मिला तो अब युवराज को बल्लेबाजी के लिये पहले उतारा जा सकता है। युवराज ने पिछले मैच में पूरे 20 ओवर फील्डिंग के अलावा एक ओवर गेंदबाजी भी की।
वहीं, आस्ट्रेलियाई टीम टी20 में टेस्ट और वनडे वाले प्रदर्शन को नहीं दोहरा सकी है। पांच दिनी प्रारूप में रैंकिंग में लगातार शीर्ष पर रहने वाली और वनडे में पांच विश्व कप जीतने वाली टीम का टी20 में रिकार्ड खराब रहा है। ग्लेन मैक्सवेल की वापसी से टीम मजबूत हुई है लेकिन कप्तान आरोन फिंच को कई क्षेत्रों में सुधार करना होगा।
टीमें: भारत: एमएस धोनी (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, विराट कोहली, युवराज सिंह, सुरेश रैना, हार्दिक पंड्या, गुरकीरत मान, रिषि धवन, रविंद्र जडेजा, आर अश्विन, हरभजन सिंह, जसप्रीत बुमरा, आशीष नेहरा, उमेश यादव, अजिंक्य रहाणे।
आस्ट्रेलिया : आरोन फिंच (कप्तान), डेविड वार्नर, स्टीव स्मिथ, ग्लेन मैक्सवेल, शान मार्श, क्रिस लिन, जेम्स फाकनेर, मैथ्यू वेड, नाथन लियोन, कैमरून बायस, ट्रेविस हेड, जान हेस्टिंग्स, स्काट बोलैंड, केन रिचर्डसन, एंड्रयू टाये, शान टैट, शेन वाटसन।

Updated : 2016-01-29T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top