Home > Archived > पाकिस्‍तान के यूएन में कश्मीर मुद्दा उठाने पर भारत ने जताई आपत्ति

पाकिस्‍तान के यूएन में कश्मीर मुद्दा उठाने पर भारत ने जताई आपत्ति

पाकिस्‍तान के यूएन में कश्मीर मुद्दा उठाने पर भारत ने जताई आपत्ति
X

संयुक्त राष्ट्र | संयुक्त राष्ट्र में एक बार फिर अपनी आदत से मजबूर पाकिस्तान ने कश्मीर का राग अलापते हुए जनमत संग्रह करने की मांग कर डाली जिसपर भारत ने लताड़ते हुए साफ कर डाला कि जम्मू कश्मीर देश का अभिन्न अंग है और रहेगा जिसमें किसिके टांग अड़ाने की कोई गुंजाइश नहीं दिखती।
संयुक्त राष्ट्र में मौजूद भारत की लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने पाकिस्तान की किरकिरी करते हुए कहा कि पाकिस्तान को यह समझना चाहिए था कि संयुक्त राष्ट्र में अंतर-संसदीय संघ की बैठक हो रही थी जिसमें वर्ष 2030 तक के विकास एजेंडा की बात हो रही थी।
स्पीकरों की चौथी वैश्विक कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लेने पहुंची सुमित्रा ने सिरे से पाकिस्तान के दावों को खारिज कर दिया और जम्मू कश्मीर पर पाकिस्तान के दावों को अप्रासंगिक करार दे दिया।
इससे पहले संयुक्त राष्ट्र के मंच पर पाकिस्तान की तरफ से नेशनल असेंबली के अन्तरिम स्पीकर मुर्तजा जावेद अब्बासी ने कहा था कि समय आ गया है कि अब जम्मू कश्मीर के लोगों को जनमत संग्रह का हक दिया जाए।
महाजन ने भारत का पक्ष रखते हुए कहा कि पहली बात तो जम्मू कश्मीर हमारा अभिन्न अंग है साथ ही वहाँ सालों से जंतान्त्रिक तरीके से चुनी हुई सरकार आती रही है। पाकिस्तान को यह समझ लेना चाहिए कि वहाँ के लोगों ने राज्य सरकार को चुनकर लाया है। इससे अधिक और जंतांत्रिक क्या हो सकता है।

Updated : 2015-09-03T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top