Top
Home > Archived > सिक्स एम से रहे सावधान : पाराशर

सिक्स एम से रहे सावधान : पाराशर

भाजपा के दो दिवसीय प्रशिक्षण वर्ग का समापन


राघौगढ़। हमें सिक्स एम के प्रति न केवल जागरुक रहना होगा, बल्कि इससे सावधान रहने की भी आवश्यकता है। यह सिक्स एम है, मिलटेंसी, माओवाद, मीडिया, मदरसा, मैं और मिशनरी। यह सभी देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए खतरा बन गए है। उक्त विचार स्वदेश ग्वालियर के संपादक लोकेन्द्र पाराशर ने व्यक्त किए। श्री पाराशर भाजपा के राघौगढ़ मंडल के दो दिवसीय प्रशिक्षण एवं अभ्सास वर्ग के समापन अवसर पर अपना उद्बोधन दे रहे थे। कम्यूनिटी हॉल में आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य वक्ता उपस्थित श्री पाराशर ने देश के समक्ष आंतरिक एवं बाहरी चुनौतियों को लेकर अपने विचार बेहद सरल शब्दों में व्यक्त किए। कार्यक्रम की अध्यक्षता पूर्व मंडी अध्यक्ष रामप्रसाद धाकड़ द्वारा की गई।
गंभीर है चुनौतियां
कार्यक्रम में श्री पाराशर ने कहा कि देश के समक्ष आंतरिक और बाहरी चुनौतियां खड़ी होकर संकट बढ़ा रहीं है। बाहरी चुनौतियों से निबटना तो फिर भी आसान है, किन्तु आतंरिक चुनौतियां खतरनाक साबित हो रहीं है। नक्सलवाद, आतंकवाद, तृष्टिकरण, माओवाद, मिशनरी आदि देश की जड़ों को खोखला करने में लगे हुए है। श्री पाराशर के अनुसार सबसे गंभीर बात यह है कि वामपंथी विचारधारा वाला मीडिया इन सबका पोषण करने में लगा हुआ है। आवश्यकता इस बात की है कि इन सभी चुनौतियों का हम सब डटकर मुकाबला करें।
बढ़ रही मोदी की लोकप्रियता
श्री पाराशर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की लोकप्रियता बढ़ती जा रही है। सिर्फ भारत देश ही नहीं बल्कि समूचे विश्व मे भारत का प्रधानमंत्री स्वीकार्य हो रहा है। अपनी कार्यशैली से प्रधानमंत्री ने विश्व के देशों को मजबूर किया है कि वह भारत पर अपना ध्यान कैन्द्रीत करें और उसे हल्के में न ले। आतंकवाद के प्रति उन्होने समूचे विश्व का समर्थन जुटाया है। श्री पाराशर के अनुसार इन अनुकूल परिस्थितियों में आवश्यकता इस बात की है कि हम अपने प्रधानमंत्री का सहयोग करें। भाजपा प्रशिक्षण प्रकोष्ठ के संयोजक अरुण चतुर्वेदी ने बताया कि कार्यकर्ताओं को पार्टी की नीतियों, सिद्धांत एवं कार्ययोजना सहित आगामी कार्यक्रमों से अवगत कराने के उद्देश्य से इस प्रशिक्षण एवं अभ्यास वर्ग का आयोजन किया गया था।

Updated : 2015-09-11T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top