Top
Home > Archived > सावन का पहला सोमवार आज, सजे शिवालय

सावन का पहला सोमवार आज, सजे शिवालय

शिव भक्तों की उमड़ेगी भारी भीड़, माला, बेलपत्र हुए महंगे

झांसी। श्रावण मास में भगवान शिव की पूजा का अत्यधिक महत्व रहता है। फिर सोमवार का दिन तो हमेशा ही महादेव का दिन माना जाता है। सोमवार को महानगर के शिव मंदिरों पर भारी समुदाय उपस्थित रहेगा। इसके लिए शिव मंदिरों में विशेष प्रकार की सजावट की गई है। मंदिरों में उमडऩे वाली भीड़ के अनुमान को देखते हुए पुष्प विक्रेताओं ने अपने भाव बढ़ा दिए हैं।
शहर के ग्वालियर रोड़ पर स्थित सिद्धेश्वर मंदिर प्रसिद्ध शिव मंदिर है, जहां शहर भर के श्रद्धालु आते हैं। मंदिरों के व्यवस्थापकों ने भी भक्तों की संख्या को देखते हुए उचित प्रबंधन किया है। इस मंदिर पर आकर्षक सजावट की गई है। इसी प्रकार पानी वाली धर्मशाला स्थित शिव मंदिर भी शहर के प्रसिद्ध मंदिरों से एक है, यहां श्रावण मास के पहले दिन से ही भक्तों की काफी संख्या आ रही है। सोमवार के दिन भक्तों की संख्या बढऩे का अनुमान है। मंदिर के बाहर लगी पूजा सामग्री की दुकानों पर बात की तो दुकानदारों ने फूलमाला और बेलपत्रों के भाव सामान्य दिनों की अपेक्षा अधिक बताए। भक्तजन भी पूजन सामग्री आसानी से खरीदते देखे जा रहे हैं।
इस मंदिर पर भी सोमवार के दिन खास इंतजाम किए हैं। शहर के अन्य शिव मंदिरों में गोविंद चौराहा स्थित मडिय़ा महादेव मंदिर, हजारी बाग के शिव मंदिर, नगरा के शिव मंदिर, किले वाले शिव मंदिरों, पटला के हनुमान के पास शिव मंदिर, फूटा चौपड़ा स्थित महादेव मंदिर, पंचमुखी महादेव मंदिर बड़ागांव गेट, सिद्धेश्वर मंदिर, सदर बाजार का शिव मंदिर, पानी वाली धर्मशाला का शिव मंदिर आदि पर भी शिव भक्तों के लिए उचित प्रबंधन किया गया है। भीड़ एकत्रित न हो पाए, इसलिए भक्तों को जल्दी पूजा करने के लिए कहा जाएगा। इसके अलावा अन्य मंदिरों पर भी भक्तों की खासी भीड़ रहने का अनुमान है।

Updated : 2015-08-03T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top