Home > Archived > इनामी बदमाश ने किया आरक्षक पर जानलेवा हमला

इनामी बदमाश ने किया आरक्षक पर जानलेवा हमला

ग्वालियर। एक इनामी बदमाश ने अपराध शाखा के एक आरक्षक पर बुधवार को उस समय जानलेवा हमला कर दिया, जब वह बदमाश की रैकी करते हुए उसका पीछा कर रहा था। बदमाश को जैसे ही इस बात की भनक लगी कि पुलिस का जवान सिविल डे्रस में उसकी रैकी कर रहा है वैसे ही उसने आरक्षक पर धारदार हथियार से हमला कर दिया। घायल आरक्षक को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
जानकारी के अनुसार बुधवार को अपराध शाखा पुलिस को सूचना मिली कि जनकगंज थाना क्षेत्र में राजा गैस गोदाम के पास एक पांच हजार का इनामी बदमाश रामवरन रावत निवासी बेलगढ़ा को देखा गया है। इसकी तस्दीक के लिए अपराध शाखा द्वारा आरक्षक राजेश गुर्जर को वहां भेजा गया। आरक्षक जब बदमाश का पीछा कर रहा था तभी बदमाश को इस बात की भनक लग गई कि उसका जो व्यक्ति पीछा कर रहा है, वह पुलिस का आदमी है। इसके बाद बदमाश ने धारदार हथियार से अचानक आरक्षक पर हमला कर दिया। हमले में आरक्षक को कंधे, सिर व गुप्तांगों में चोटें पहुंची हैं।
बताया गया है कि बदमाश ने पास की दुकान से एक बड़ी कैंची उठाकर आरक्षक पर हमला किया, लेकिन आरक्षक ने रामवरन को पकड़ लिया। इस दौरान उसने आरक्षक के गुप्तांगों में कैंची से हमला कर दिया। इसके बाद वह आरक्षक की पकड़ से छूटकर भागने में सफल हो गया। बाद में अपराध शाखा की टीम घटना स्थल पर पहुंची और घायल आरक्षक को लेकर निजी अस्पताल पहुंची, जहां उसे भर्ती कर लिया गया।
चीनौर में हुई लूट में शामिल था हमलावर
आरक्षक पर हमला करने वाला बदमाश रामवरन सिंह रावत विगत मंगलवार को चीनौर स्थित पेट्रोल पम्प संचालक से हुई पचास हजार रुपए की लूट के मामले में मुख्य आरोपी बताया गया है। पुलिस ने बताया कि रामवरन की गिरफ्तारी पर पांच हजार रुपए का इनाम घोषित है। वह नरवर, शिवपुरी, घाटीगांव एवं चीनौर में हुई लूट व डकैती के मामलों में शामिल रहा है। रामवरन को कुछ माह पहले घाटीगांव पुलिस ने भी पकडऩे का प्रयास किया था। उस समय भी वह पुलिस पर हमला कर भाग गया था। हालांकि पुलिस ने उससे हथियार बरामद कर लिए थे।
'पांच हजार के इनामी एवं चीनौर में पेट्रोल पम्प पर हुई लूट के आरोपी की सूचना मिली थी। उसकी रैकी के लिए आरक्षक को भेजा था। सूचना पर अपराध शाखा के दल को बदमाश को पकडऩे क लिए भेजना था, लेकिन बदमाश ने आरक्षक पर हमला कर दिया, जिससे उसे गंभीर चोटें आई हैं।Ó
प्रतिमा मैथ्यू,
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, अपराध शाखा

Updated : 2015-08-27T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top