Home > Archived > आयकर छापे में आया लीना का नाम

आयकर छापे में आया लीना का नाम

नर्मदा प्रबंधन देता था वेतन
भोपाल। प्रदेश में आयकर छापा की कार्रवाई आज भी जारी रही। वहीं अब मप्र के तत्कालीन मुख्य सचिव आर परशुराम की ईमानदारी पर सवाल उठने लगे हैं। पिछले तीन दिनों से चल रहे भोपाल में आयकर विभाग के छापों से यह उजागर हुआ कि 100 करोड़ की अकूत संपत्ति कमाने वाला नर्मदा अस्पताल प्रबंधन आर परशुराम की पत्नी को तब तक वेतन देता रहा जब तक वे प्रदेश के मुख्य सचिव बने रहे। कांग्रेस प्रवक्ता के के मिरा का आरोप है कि परशुराम की ईमानदारी का पता तभी चल गया था जब राज्य सरकार ने उन्हें सेवानिवृत्ति के बाद राज्य निर्वाचन आयोग का अध्यक्ष बनाकर उपकृत किया था। नर्मदा अस्पताल प्रबंधन पर पड़े छापे में आयकर विभाग के हाथ जो दस्तावेज लगे है जिसमें प्रबंधन द्वारा तत्कालीन मुख्य सचिव की पत्नी लीना परशुराम को चेक से वेतन दिये जाने का मामला उजागर हुआ है।
खास बात यह है कि लीना परशुराम पहले नर्मदा ग्रुप में समाज सेविका के रूप में जुड़़ी थी, लेकिन आर परशुराम के मुख्य सचिव बनते ही उन्हें सेलरी मिलने लगी। आर परशुराम मुख्य सचिव पद से हटे तो लीना परशुराम नर्मदा गु्रप से बाहर हो गई।
प्रदेश में आयकर छापा की कार्रवाई जारी
आयकर विभाग की इन्वेस्टीगेशन टीम ने आज भी नर्मदा अस्पताल, मनोहर डेरी व भाजपा नेता शैलेन्द्र शर्मा के निशात कॉलोनी स्थित घर के साथ 10 ठिकानों पर छापे की कार्रवाई जारी रखी। आयकर विभाग के अधिकारियों ने कल नर्मदा अस्पताल के चेयरमैन डॉ. राजेश शर्मा के बुधनी में गिरडिय़ा नाले पास 40 एकड़ जमीन में आलीशान सुसज्जित स्वीमिंग पुल एवं सुसज्जित फार्म हाउस सहित सौ एकड़ जमीन भी मिली है। इसके अलावा तीन किलो सोने के जेवरात भी बरामद हुए हैं। आयकर विभाग के अधिकारियों को कल ही मनोहर डेयरी के पांच लॉकर एवं 50 लाख नकद मिले हंै।

Updated : 2015-07-04T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top