Home > Archived > भारी बारिश, बाढ़ के हालात

भारी बारिश, बाढ़ के हालात

लगातार बारिश से जन-जीवन अस्त-व्यस्त, खेत तालाबों में तब्दील

अशोकनगर। लगातार बारिश से जिले में जनजीवन अस्त-व्यस्त होने लगा है। सोमवार को जिलेभर में हुई मूसलाधार बारिश से खेत तालाबों में तब्दील हो गए। नदी-नालों में भी उफान आ गया। छोटे-छोटे नालों के उफनने से रास्ता अवरुद्ध हो गया है। अगर अगले 24 घंटों में इसी तरह से बारिश होती रही तो बाढ़ के हालात भी बन सकते हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में कच्चे मकान भी क्षतिग्रस्त हो गए हैं। वहीं तेज बारिश के बाद दुपहिया वाहनों के साथ छुटपुट सड़क दुर्घटनाएं भी हुई हैं।
जिले के ज्यादातर हिस्सों में पिछले शुक्रवार से तेज बारिश हो रही है। सोमवार को दोपहर में करीब दो घंटे तक भारी बारिश के कारण अधिकांश नदी-नालों में उफान आ गया है। शाम करीब 4 बजे दोबारा से आकाशीय बिजली की चमक और बादलों की गडग़ड़ाहट के साथ बारिश शुरू हुई, जो करीब आधा घंटा चली। पूरा दिन आसमान सौ प्रतिशत बादलों से ढंका रहा। तेज बारिश के बाद मौसम में ठंडक घुल गई है। ग्राम झागर बमुरिया में स्टेट हाईवे के निर्माण के बाद पानी निकासी के लिए जगह न होने से कुछ घरों में पानी भर गया। जिला मुख्यालय पर निचली बस्तियों में घरों में पानी घुसने से कई घंटों तक लोग परेशान रहे और बारिश के पानी को उलीचने में परिवार के पूरे लोग जुटे रहे। कुड़ीघाट, मोहरी की पुलिया आदि पर सड़क पर पानी आ जाने से घंटों तक रास्ता अवरुद्ध रहा। मौसम विभाग के अनुसार बारिश का दौर अभी थमने की संभावना काफी कम है। ऐसे मेें अगर इसी तरह बारिश हुई तो बाढ़ की स्थिति बन सकती है। नदी के मुहानों पर बसे गांवों में बारिश को लेकर काफी चिंता है। मुंगावली क्षेत्र में बारिश का दौर लगातार चल रहा है। यहां रविवार की रात्रि मेें भी काफी बारिश हुई, जिससे मोला और केथन दोनों ही नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। बाढ़ की संभावना से कुरयाना मोहल्ला, छोटी पुलिया, पुराना बाजार के लोगों में चिंता व्याप्त है।
शहर में बढ़ी मुश्किलें:
पहले से ही खुदी पड़ी शहर की सड़कें भी बारिश में परेशानी का सबब बन गई हैं। शहर के हृदय स्थल गांधी पार्क चौराहा के चारों ओर बनी सड़क मेें बड़े-बड़े गड्ढे हंै जिनमें पानी भर गया है। वाहन चालक यहां से गिरते-पड़ते गुजर रहे हैं वहीं पैदल राहगीरों पर इन वाहनों के निकलने से कीचड़ और पानी उछलकर गिर रहा है। पछाड़ीखेड़ा रोड़, पुराना बाजार, वाल्मीकि मोहल्ला, माता मंदिर रोड पर भी काफी परेशानी आ रही है। शहर की विभिन्न कॉलोनियों में भी बारिश के बाद खराब हुईं सड़कों से दिक्कत आ रही है। शंकर कॉलोनी, कबीरा रोड, शंकरपुर मगरदा, सांई सिटी कॉलोनी, दुर्गा कॉलोनी, तायड़े कॉलोनी, कछियाना मोहल्ला, छैघरा, नौघरा में खराब सड़कों के कारण परेशानी आ रही है। श्रीकृष्ण धर्मकांटा के पास ओव्हरब्रिज के नीचे सड़क पर काफी बड़ा गड्ढा हो गया है, जिसमें भरे पानी में दुपहिया वाहन गिर रहे हैं। वहीं स्टेट हाईवे निर्माण के बाद सड़क ऊंची होने से आसपास के घरों में पानी भर रहा है। चुंगी नाका से लेकर त्रिदेव महादेव मंदिर तक बने मकानों में पानी घुसने से लोगों को काफी दिक्कत आ रही है। शुभम सेनेटरी, मुस्कान पब्लिक स्कूल आदि में सोमवार को हुई बारिश का पानी भर गया। वहीं सड़क पर भी काफी मात्रा में पानी भरा हुआ है। इसी रोड पर स्थित आयशर ट्रैक्टर के वर्कशॉप के ठीक सामने वाली सड़क पर घुटनों-घुटनों तक पानी भरा हुआ है। इससे दुपहिया वाहन फिसल रहे हैं। बारिश के दौरान एक पिता-पुत्र मोटरसाइकिल फिसलने से गिर पड़े। पानी होने की वजह से उन्हें चोट नहीं आई लेकिन उनके चप्पल, जूते और जरूरी सामान बह गया।

Updated : 2015-07-21T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top