Home > Archived > पाकिस्तान में भीषण गर्मी और लू का कहर जारी, मृतकों की संख्या 1200 के पार

पाकिस्तान में भीषण गर्मी और लू का कहर जारी, मृतकों की संख्या 1200 के पार

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में भीषण गर्मी और लू के कारण अब तक 1200 से अधिक लोग काल के गाल में समा गए हैं। प्रशासन ने सभी शैक्षणिक संस्थाओं को बंद करने के निर्देश जारी किए हैं और बिगड़ते हालात पर काबू पाने के लिए सेना की सहायता मांगी गई है ।
दक्षिण सिंध प्रांत में पिछले सप्ताह रमजान शुरू होने के साथ ही लू का जबरदस्त प्रकोप शुरू हुआ । प्रांत के सभी बड़े अस्पतालों में आपात स्थिति उत्पन्न हो गई है। सिंध प्रांत में भीषण गर्मी और लू के कारण बारह सौ लोगों की मौत के बाद प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने आपात सहायता बुलाई है।
कराची में सप्ताहांत में अधिकतम तापमान 45 डिग्री पहुंच गया और चार दिनों के भीतर ही इन लोगों की जानें जा चुकी हैं। भीषण गर्मी से बीमार होकर कराची के सरकारी अस्पतालों में भर्ती हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है जबकि छोटे चिकित्सा संस्थान और क्लिनिक में भर्ती कई मरीजों की मौत हो गई है।
स्थिति की गंभीरता को देखते हुए अस्पतालों में आपात स्थिति घोषित कर दी गई है और आंकड़ों के मुताबिक, कराची में गर्मी और लू की चपेट में आकर मंगलवार को 350 लोगों की मौत हो गई, जहां अधिकतम तापमान 44.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।
हालात की गंभीरता को समझते हुए कुछ मौलवियों ने यह भी घोषणा की है कि शारीरिक रूप से कमजोर और बीमार लोग रमजान के दौरान रोजा रखने से परहेज करें।
आपात स्थिति के प्रभारी सिमि जमाली के मुताबिक, कराची के जिन्ना पोस्ट ग्रैज्युएट मेडिकल कॉलेज (जेपीएमसी) में सबसे ज्यादा लोगों की मौत हुई है, जहां चार हजार से ज्यादा मरीजों का उपचार चल रहा है। प्रधानमंत्री नवाज ने गर्मी और लू पीड़ितों की सहायता के लिए राष्ट्रीय आपदा प्रबंध प्राधिकरण (एनडीएमए) और दूसरी संस्थाओं से आवश्यक प्रबंध करने के निर्देश दिए हैं।

Updated : 2015-06-25T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top