Top
Home > Archived > नेपाल में भूस्खलन से नदी रुकी, बाढ़ का ख़तरा

नेपाल में भूस्खलन से नदी रुकी, बाढ़ का ख़तरा

नेपाल में भूस्खलन से नदी रुकी, बाढ़ का ख़तरा
X

काठमांडू। भगवान का कहर हो या कुदरत की माया जिसे कोई टाल नहीं सकता। कुछ एैसा ही इन दिनों नेपाल में हो रहा है। पहले तो यहां भूकंप ने सबकुछ तबाह कर दिया। जो भी बचा है उस पर बाढ का खतरा मंडरा रहा है। नेपाल में 25 अप्रैल को आए भीषण भूकंप के बाद आ रहे आफ्टर शॉक्स और लैंडस्लाइड की घटनाओं से बाढ़ का खतरा पैदा हो गया है।नेपाल के म्याग्दी जिले के रामछे गांव में शनिवार रात हुए लैंडस्लाइड से काली गंडकी नदी ब्लॉक हो गई है। इसके बाद ही अधिकारियों ने हजारों ग्रामीणों से सुरक्षित स्थान पर जाने की अपील की है। अधिकारियों के अनुसार, यह जगह राजधानी काठमांडू से 140 किलोमीटर दूर है। नदी में मलबा जमा होने के कारण जलस्तर काफी बढ़ गया है, जिससे आसपास के इलाकों में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है।नेपाल के गृहमंत्री लक्ष्मी प्रसाद ढकाल ने बताया कि पर्बत, स्यांग्जा, गुल्मी, पल्पा, नवलपारसी और चितवन जिले बाढ़ से प्रभावित हो सकते हैं। उन्होंने बताया कि हमने इन जिलों के गांवों में रहने वाले लोगों से सुरक्षित स्थानों की ओर जाने की अपील की है।

Updated : 2015-05-24T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top