Top
Home > Archived > दो दर्जन से अधिक के खिलाफ दर्ज हुए मामले

दो दर्जन से अधिक के खिलाफ दर्ज हुए मामले

दो दर्जन से अधिक के खिलाफ दर्ज हुए मामले

श्योपुर। ग्राम पंचायत उपचा में सामुदायिक भवन का ताला खोलने की बात को लेकर दो पक्षों के बीच जमकर लाठी-डण्डे चले तथा इस खूनी संघर्ष में सरपंच एवं पूर्व सरपंच सहित 21 लोग घायल हो गए। जिनमें से एक की हालत नाजुक होने के चलते ग्वालियर रैफर किया गया है।जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत ऊपचा के तत्कालीन सरपंच हाकिम सिंह कुशवाह ने 5 लाख रुपए की लागत से एक सामुदायिक भवन बनाया है, जिसका करीब 3 लाख रुपए का भुगतान होना शेष है। जिस कारण पूर्व सरपंच ने सामुदायिक भवन में ताला डाल रखा है। वर्तमान सरपंच रामसिंह कुशवाह ने शुक्रवार की शाम को पूर्व सरपंच से कलेक्टर के आने की बात कहते हुए ताला खोलने को कहा। इस पर पूर्व सरपंच ने पहले भुगतान होने की बात कही। इस बात पर दोनों पक्षों के बीच पहले तो मुंहवाद हुआ, जो थोड़ी ही देर में खूनी संघर्ष में बदल गया तथा दोनों पक्षों से लोग लाठी-डंडे लेकर एक-दूसरे पर टूट पड़े। इस घटना में 21 लोग घायल हो गए।घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में दाखिल कराया गया, जहां चिकित्सकों ने वीरसिंह कुशवाह की गंभीर हालत को देखते हुए ग्वालियर रैफर कर दिया। इस मामले में पुलिस ने फरियादी हाकिम पुत्र नारायण कुशवाह की रिपोर्ट पर आरोपी रामसिंह, सरोज, सरूपी, कमलेश, ओमप्रकाश, मुकेश, रघुवीर, अमर सिंह, दौजी, नारायण, कदम सिंह, बीरबल के खिलाफ तथा दूसरे पक्ष के फरियादी पूरन पुत्र नारायण कुशवाह की रपट पर आरोपी हाकिम, वीरसिंह, कमल सिंह, ज्ञानसिंह, नारायण, मुंशी, रामदुलारी, उर्मिला, शारदा कुशवाह के खिलाफ बलवा सहित विभिन्न धाराओं के तहत आपराधिक प्रकरण दर्ज कर लिया है।यह हुए घायलइस झगड़े में एक पक्ष से पूर्व सरपंच हाकिम, शारदा, ज्ञानसिंह, उर्मिला, रामगोपाल, नारायण, सरोज, भरत, रामदुलारी एवं राजकुमार तथा दूसरे पक्ष से पूरन, वर्तमान सरपंच रामसिंह, सरोज, कमलेश, शिवलता, कृष्णा, चन्द्रा, मुकेश, दौजी एवं नवाब कुशवाह सहित 21 लोग घायल हो गए। घायलों में वीरसिंह की हालत गंभीर थी। उसके सिर में गहरी चोट होने की वजह से चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद ग्वालियर रैफर कर दिया।

Updated : 2015-05-24T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top