Top
Home > Archived > धोनी की चेन्नई सुपरकिंग्स को हराकर गंभीर ने ली राहत की सांस

धोनी की चेन्नई सुपरकिंग्स को हराकर गंभीर ने ली राहत की सांस

कोलकाता | कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान गौतम गंभीर ने पिछले मैच में चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ दो रन की हार के बाद आज इस टीम के खिलाफ सात विकेट की जीत दर्ज करने के बाद राहत की सांस ली।
सुपरकिंग्स के 166 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए केकेआर ने रोबिन उथप्पा (नाबाद 80) और आंद्रे रसेल (नाबाद 55) के बीच चौथे विकेट की 112 रन की अटूट साझेदारी की बदौलत एक गेंद शेष रहते तीन विकेट पर 169 रन बनाकर जीत दर्ज की।
गंभीर ने मैच के बाद कहा, ‘पिछले मैच में नाकाम रहने के बाद यह हमारे लिए महत्वपूर्ण परीक्षा थी। यहां वापस आकर अच्छा प्रदर्शन करना शानदार प्रयास है। मैंने टीम से कहा कि अगर हमें गत चैम्पियन की तरह खेलना है तो यह हमारे लिए महत्वपूर्ण परीक्षा है। मैं चाहता था कि वे स्वतंत्र होकर खेलें और रसेल और उथप्पा ने ऐसा ही किया। उथप्पा ने काफी समझदारी भरी भूमिका निभाई क्योंकि रसेल के साथ खेलते हुए आप भावनाओं में बह सकते हैं।’
उन्होंने कहा, ‘हम सकारात्मक होना चाहते थे और हमने विकेट चटकाए और फिर लक्ष्य हासिल किया। एक समय मैंने सोचा कि हम उन्हें 140 से 150 के बीच रोक देंगे लेकिन इस प्रारूप में और इतनी तेज आउटफील्ड पर हमेशा ऐसा नहीं होता।’
दूसरी तरफ सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने स्कोर को 150 रन के पार पहुंचाने का श्रेय पवन नेगी को दिया जिन्होंने अंत में 13 गेंद में 27 रन की पारी खेली थी। धोनी ने कहा, ‘यह काफी अच्छा स्कोर था। हम यहां नेगी की वजह से पहुंचने में सफल रहे। हमने शुरूआत में काफी विकेट गंवा दिए। काफी अच्छा प्रयास था लेकिन अगर जडेजा थोड़ी बेहतर गेंदबाजी करता तो मुझे लगता है कि विकेट से उसे मदद मिलती। कुल मिलाकर अच्छा प्रयास था।’
उन्होंने कहा, ‘इस तरह की पिच से कलाई से स्पिन कराने वाले गेंदबाजों को अधिक मदद मिलती है लेकिन नेगी ने अच्छी गेंदबाज की। अश्विन को यहां गेंदबाजी करने में मजा आता। चेन्नई वापसी लौटने के बाद हमें चोट से उसकी प्रगति के बारे में पता चलेगा।’

Updated : 2015-05-01T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top