Top
Home > Archived > होमगार्ड सैनिक ने एसडीएम के बंगले पर लगाई फांसी

होमगार्ड सैनिक ने एसडीएम के बंगले पर लगाई फांसी

भिण्ड। ऑफीसर कॉलोनी में एसडीएम के बंगले पर पदस्थ एक होमगार्ड सैनिक ने अज्ञात कारणों के चलते फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।
जानकारी अनुसार भूपसिंह भदौरिया पुत्र सुन्दर सिंह भदौरिया उम्र 48 वर्ष निवासी जमहौरा हाल अग्रवाल कॉलोनी एसडीएम बंगले पर विगत चार-पांच साल से पदस्थ था, लेकिन बुधवार की सुबह करीब सात बजे जब सुन्दर सिंह अपने घर से एसडीएम बंगले पर ड्यूटी के लिए आया, उसके कुछ देर बार जब श्रीकृष्ण पुत्र भोगीराम खटीक उम्र 35 वर्ष निवासी बीटीआई स्कूल के पीछे महावीर नगर अपने शासकीय कार्य से एसडीएम से उनके बंगले पर मिलने आया तो सबसे पहले वह गार्ड रूम में पहुंचा, जहां उसने देखा कि गार्ड फांसी पर झूल रहा है।
इस दृश्य को देख घबराए श्रीकृष्ण ने घटना की जानकारी पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंच मृतक होमगार्ड सैनिक के शव को नीचे उतारकर मौके का मुआयना किया और शव को अंत:परीक्षण के लिए जिला चिकित्सालय भिजवाकर मर्ग कायम कर विवेचना में
लिया है।
अक्सर रहता था बीमार
बताया गया है कि मृतक होमगार्ड सैनिक की पत्नी का देहांत दस वर्ष पूर्व हो गया था। मृतक के दो बेटे व एक बेटी है। पत्नी की मौत के बाद से वह अकेलापन महसूस कर रहा था, साथ ही उसका स्वास्थ खराब रहता था। हालांकि किन कारणों के चलते उसने यह आत्मघाती कदम उठाया? यह अभी तक साफ नहीं हो पाया है।
एसडीएम सपरिवार थे ग्वालियर
मृतक होमगार्ड सैनिक एसडीएम के बंगले पर पिछले चार-पांच साल से पदस्थ था। एसडीएम बी.बी. अग्निहोत्री लम्बी छुट्टी पर गए हुए थे। इसी के चलते उनका परिवार भी ग्वालियर में था। घटना की जानकारी लगते ही एसडीएम श्री अग्निहोत्री अपने बंगले पर पहुंचे।

Updated : 2015-04-02T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top