Top
Home > Archived > हरित प्रौद्योगिकी का विकास युद्धस्तर पर करने की जरूरत : जेटली

हरित प्रौद्योगिकी का विकास युद्धस्तर पर करने की जरूरत : जेटली

हरित प्रौद्योगिकी का विकास युद्धस्तर पर करने की जरूरत : जेटली

वाशिंगटन | वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कहा है कि भारत जलवायु परिवर्तन से उत्पन्न खतरे से लड़ने में अपनी भूमिका निभाने को तैयार है और विश्व समुदाय को हरित प्रौद्योगिकियों का विकास ‘युद्धस्तर पर’ करने की आवश्यकता है।जेटली ने यह बात अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष और विश्व बैंक की वार्षिक ग्रीष्मकालीन बैठक से इतर जलवायु परिवर्तन पर आयोजित वित्त मंत्रियों की बैठक में कही। वित्त मंत्री ने कहा, ‘भारत इस आम समस्या का समाधान करने की दिशा में अपने हिस्से की भूमिका निभाने को तैयार है।’जेटली ने कहा, ‘इस दिशा में हमारी बड़ी भूमिका है क्योंकि हम मानते हैं कि अधिक गर्म ग्रह भारत सहित विश्व के गरीब हिस्सों को बहुत ज्यादा प्रभावित करेगा। हम इस बारे में भी पूरी तरह से अवगत हैं कि हमारे मुकाबले धनी देश अधिक आसानी से और किफायती तरीके से जलवायु परिवर्तन के प्रति अनुकूलन कर सकते हैं। इसलिए इससे हमारा ज्यादा कुछ दांव पर लगा है।’वित्त मंत्री ने कहा कि जलवायु परिवर्तन की चुनौतियों को ग्रीनहाउस गैसों के उत्सर्जन को सीमित करने के साझे वैश्विक उद्देश्य के साथ गरीब देशों की ऊर्जा आवश्यकताओं का तालमेल बैठाने के रूप में देखा जा सकता है।

Updated : 2015-04-18T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top