Home > Archived > पुत्र की मौत की जांच कराने दर-दर की ठोकरें खा रहा पिता

पुत्र की मौत की जांच कराने दर-दर की ठोकरें खा रहा पिता

शिवपुरी । जिले के पोहरी क्षेत्र के ग्राम बैधारी के चिरौंजीलाल प्रजापति ने आवेदन देकर शिकायत की है कि उसके युवा पुत्र को रहस्यमय तरीके से मौत के घाट उतार दिया गया है। इसकी जांच कराने और आरोपियों को हिरासत में लेने के लिए पुलिस टालमटोल कर रही है। मृतक के पिता ने युवा पुत्र की दु:खद मृत्यु को लेकर मुख्यमंत्री हेल्पलाइन सहित पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों से भी न्याय की गुहार लगाई है, लेकिन मृत्यु के तीन महीने गुजर जाने के बावजूद उसे न्याय नहीं मिला है।तहसील पोहरी के बैधारी निवासी चिरौंजीलाल प्रजापति ने बताया कि एक दिसम्बर 2014 को उसके पुत्र जगपाल प्रजापति की लाश रेलवे ट्रेक से 20 फीट दूर पड़ी मिली थी। मृतक के मोबाइल पर आखरी बार जिस व्यक्ति से बातचीत हुई थी, उसके बारे में संदेह जताया गया था। पुलिस ने उक्त संदेही से पूछताछ न कर पूरे मामले पर पर्दा डाल रखा है। मुख्यमंत्री जन शिकायत एवं हेल्प लाइन में बिन्दुबार की गई शिकायत में यह भी उल्लेख किया गया है कि मृतक जगपाल को जान से मारने की धमकी दी गई थी। इस आधार पर मामले की निष्पक्ष जांच की जाए। पुत्र की मौत का खुलासा न होने से पिता इन दिनों हर उस चौखट पर कदम रख रहा है, जहां से उसे न्याय मिलने की उम्मीद है।तीन माह में आरोपियों तक नहीं पहुंच पार्ई पुलिसमृतक के पिता ने यह भी बताया कि जिस समय जगपाल की लाश उसके समक्ष आई थी तो शव के गले, हाथ, पैर में रस्सी बांधने के निशान मौजूद थे। मृतक के कपड़े रेलवे ट्रेक से 30 फीट की दूरी पर पड़े मिले थे। यह सबूत इस बात की ओर इशारा करते हैं कि मृतक के साथ किसी ने मारपीट की और उसने ही उसे मौत के घाट उतारा होगा।

Updated : 2015-03-27T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top