Top
Home > Archived > हमारे कारोबार को नुकसान पहुंचाने वाले देश के साथ करार नहीं: सिरिसेना

हमारे कारोबार को नुकसान पहुंचाने वाले देश के साथ करार नहीं: सिरिसेना

कोलंबो। श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाल सिरिसेना ने कहा है कि भारत यात्रा के दौरान वह जानबूझकर एक एजेंडा के तहत वृहद आर्थिक भागीदारी करार (सेपा) के लिए बातचीत में शामिल नहीं हुए थे। उन्होंने यहां स्थानीय उद्यमियों को संबोधित करते हुए कहा कि मैं आपको आश्वस्त करना चाहता हूं कि मैं किसी भी ऐसे देश के साथ करार नहीं करूंगा जो हमारे कारोबार के लिए नुकसानदेह हो।
सिरिसेना ने कहा कि रत्न एवं खनन उद्योग के क्षेत्र में विदेशी कंपनियों के साथ करीब 16 करार रद्द किए हैं। भारत व श्रीलंका पिछले कई वर्षों से सेपा को पूरा करने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने पिछले महीने भारत की अपनी पहली आधिकारिक यात्रा की थी। सिरिसेना व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच हुई वार्ता के दौरान इस बात पर सहमति बनी थी कि दोनों देशों के बीच 2003 में किए गए मुक्त व्यापार करार के प्रावधानों को आर्थिक सहयोग के लिए आगे बढ़ाने के लिए काफी संभावनाएं हैं। भारत व श्रीलंका के बीच आपसी व्यापार पांच अरब डालर से अधिक का है।

Updated : 2015-03-02T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top