Home > Archived > पार्किंग से 12 लाख की नई कार चोरी

पार्किंग से 12 लाख की नई कार चोरी

सफारी गाड़ी से आए थे चोर, रिमोट व चाबी की मदद से की चोरी

शिवपुरी। लगभग बीस दिन पहले खरीदी गई 12 लाख रुपए मूल्य की कार फरियादी रौनक कोचेटा ने पूजा कर अरिहंत कार पार्किंग में खड़ी कर दी। लॉक्ड कार खोलने के लिए रिमोट और दोनों चाबी उनके पास थीं, लेकिन कल रात एक मिनट से भी कम समय में रिमोट और चाबी लेकर आए दो चोरों ने पार्किंग से बड़े इत्मिनान से कार निकाली और लेकर चले गए। चोरी का पता आज शाम चार बजे फरियादी को तब लगा, जब वह कार लेने पार्किंग में गए। पार्किंग के सीसी टीव्ही कैमरे में कार ले जाता हुआ चोर साफ दिखाई दे रहा है।
पुलिस में दर्ज कराई गई प्रथम सूचना रिपोर्ट में फरियादी रौनक कोचेटा ने बताया कि वह 15 जनवरी को ग्वालियर से बेन्टो कार खरीदकर लाए थे। कार का पूजन करने के बाद उन्होंने उसे अरिहंत पार्किंग में माधव चौक पर खड़ा कर दिया था। कंपनी द्वारा दी गई दोनों चाबियां रिमोट सहित उनके पास थीं और कंपनी का दावा है कि तीसरी चाबी उसके पास भी नहीं है और यदि कोई चाबी गुम होती है तो 15 हजार रुपए जमा करने के बाद कम से कम छह माह में वह चाबी उपभोक्ता को उपलब्ध कराई जाती है। आज शाम चार बजे जब वह कार लेने गए तो उनकी कार वहां नहीं थी। चौकीदार सोनू शर्मा ने उन्हें बताया कि रात में पौने बारह बजे के आसपास दो व्यक्ति सफारी कार से वहां आए थे और उन्होंने कहा कि वह रौनक भैया की गाड़ी लेने आए हैं। उन्होंने गाड़ी मंगाई है। इसके बाद कैप लगाया हुआ एक चोर अंदर आया और उसने रजिस्टर में अपने आने की एन्ट्री की, जिसमें उसने अपना नाम संदीप सिंह बताया। इसके बाद उसने रिमोट से गाड़ी का लॉक खोला और फिर चाबी लगाकर कार स्टार्ट की। इससे चौकीदार को कोई शंका नहीं हुई और मात्र 56 सैकेण्ड में चोर कार लेकर वहां से रवाना हो गए। इसकी वीडियो फुटेज पार्किंग के सीसी टीव्ही कैमरे में रिकार्ड है। सवाल यह है कि जब गाड़ी मालिक के पास दोनों चाबियां सुरक्षित हैं तो तीसरी चाबी कहां से आई? इससे पुलिस का अनुमान है कि चोरी में कंपनी का कोई कर्मचारी शामिल है।

विवाह के लिए खरीदी थी कार
फरियादी रौनक कोचेटा का आगामी 14 फरवरी को विवाह होने वाला है। इसी के लिए उन्होंने नई कार खरीदी थी। शनिवार को वह अपने विवाह के कार्ड बांटने जाने के लिए कार लेने पार्किंग गए तो पता चला कि वह चोरी चली गई है। बताया गया है कि चोरी गई कार में ही उसका ऑरिजनल बिल, सेल लेटर, टेम्प्रेरी रजिस्ट्रेशन व अन्य सभी दस्तावेज रखे हुए थे।

Updated : 2015-02-07T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top