Top
Home > Archived > हम अफगानिस्तान की हर संभव मदद करने को तैयार: सुषमा स्वराज

हम अफगानिस्तान की हर संभव मदद करने को तैयार: सुषमा स्वराज

हम अफगानिस्तान की हर संभव मदद करने को तैयार: सुषमा स्वराज

इस्लामाबाद | पाकिस्तान में चल रहे अफगान सम्मिट में भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने हिस्सा लिया। पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में चल रहे इस सम्मिट में स्वराज ने कहा कि हार्ट ऑफ एशिया का आयोजन अफगानिस्तान की हालत सुधारने के लिए किया गया। उन्होने कहा कि भारत पूरी तरह से अफगान की मदद करने को तैयार है। उस दौरान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ भी वहां मौजूद थे।
इससे पहले सम्मेलन में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा था कि अफगानिस्तान का दुश्मन पाकिस्तान का भी दुश्मन है। शरीफ दुनिया के सभी देशों से अफगानिस्तान में शांति के प्रयास की शुरुआत करने का दरख्वास्त की और आतंकवाद को दुनिया का सबसे बड़ा दुश्मन बताया। भारत की ओर इशारा करते हुए शरीफ ने कहा कि हम पड़ोसियों से शांतिपूर्ण और अच्छे संबंधों की अभिलाषा रखते है। अफगानिस्तान एक लोकतांत्रिक देश है और हम वहां विकास चाहते है। दुनिया को अफगानिस्ता में शांति लाने के लिए पाकिस्तान के प्रयासों की मदद करनी चाहिए।
उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने आतंकवादियों के खिलाफ जर्ब-ए-अज्ब ऑपरेशन चलाया, जिसके अच्छे नतीजे निकले। हम अफगानिस्तान में लंबे वक्त तक शांति के लिए कोशिश कर रहे हैं क्योंकि आतंकवाद तो सबका दुश्मन है।
इस्लामाबाद पहुंचने पर विदेश मंत्री ने कहा कि शांति का संदेश लेकर आई हूँ। हार्ट ऑफ एशिया की शुरुआत 2011 में हुई थी, जिसके लिए अफगानिस्तान और तुर्की ने पहल की थी। इसका मुख्य उद्देश्य अफगानिस्तान और इस क्षेत्र में दीर्घकालिक शांति और स्थायित्व के साथ प्रगति और विकास को बढ़ाना है। जिसके लिए क्षेत्रीय सहयोग और संपर्क को बढ़ाने की आवश्यकता है।

Updated : 2015-12-09T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top