Top
Home > Archived > हर काम उत्कृष्टता, त्याग व तपस्या से करें: अनिल दवे

हर काम उत्कृष्टता, त्याग व तपस्या से करें: अनिल दवे

विद्याभारती के 28 वें खेलकूद समारोह का समापन

भोपाल। विद्याभारती के 28वें राष्ट्रीय खेलकूद समारोह का आज भोपाल में समापन हुआ। समापन अवसर पर ध्वाजावतरण मंच पर उपस्थित मध्यप्रदेश के अंतराष्ट्रीय नौकायान खिलाड़ी अंकित पचौरी उपस्थित थे। समापन समारोह के कार्यक्रम में प्रकाशचन्द्र जी ने अपने उद्बोधन में कहा कि खेलों के माध्यम से अनुशासन, संस्कार के साथ-साथ अच्छे नागरिक बनने की प्रेरण मिलती है। वहीं विद्या भारती को अपने खेलों में इसके लिए पुरस्कार दिया है।
राज्यसभा सांसद अनिल माधव दवे जी मुख्य अतिथि ने खिलाडिय़ों को जीवन में योग के महत्व की सलाह देते हुए कहा कि हमें हर काम उत्कृष्टता, त्याग एवं तपस्या से करना चाहिए। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे भोपाल क्षेत्र के सांसद आलोक संजर ने राजाभोज की नगरी में आने के लिए अभिनंदन किया और कहा कि जल से नहाया हुआ व्यक्ति स्वच्छ होता है, परंतु पसीने से नहाया हुआ व्यक्ति पवित्र होता है इसलिए खिलाड़ी पवित्र होता है।
इस प्रतियोगिता में 356 भैया, 303 बहन कुल 659 खिलाडिय़ों के साथ उनके 140 संरक्षक आचार्य, दीदी की सहभागीता रही। 94 निर्णायकों के दल ने प्रतियोगिता का कुशल संचालन किया एवं प्रतियोगिता के मार्गदर्शन हेतु विद्या भारती के 25 अधिकारी पूरे समय उपस्थित रहे। प्रतियोगिता में अंडर 14 भैया में आलोक चौहान बेलदार, उत्तरपूर्व पूर्व क्षेत्र ने एवं बहनों में व्रशाली घारड पश्चिम क्षेत्र ने, अंडर 17 भैया में आर. प्रेमकुमार, दक्षिण क्षेत्र ने एवं निधी यू कुमार, दक्षिण क्षेत्र न तथा अंडर 19 भैया में एन. प्रभाशंकर, दक्षिण क्षेत्र न एवं बहन गीता चाचेरकर पश्चिम क्षेत्र ने चैम्पियनशीप पर कब्जा किया। ओवरऑल चैम्पियनशीप में पूर्वी उत्तरप्रदेश ने 23 स्वर्ण, 9 रजत, 9 कास्य के साथ प्रथम स्थान, दक्षिण ने 19 स्वर्ण, 13 रजत, 8 कास्य के साथ द्वितीय स्थान, उत्तरप्रदेश पूर्व ने 15 स्वर्ण, 11 रजत, 21 कास्य के साथ तृतीय स्थान प्राप्त किया।

Updated : 2015-11-08T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top