Top
Home > Archived > धोनी अपने भविष्य पर फैसला करने का हकदार: विश्वनाथ

धोनी अपने भविष्य पर फैसला करने का हकदार: विश्वनाथ

बेंगलुरु | दिग्गज बल्लेबाज गुंडप्पा विश्वनाथ का मानना है कि भारत के सीमित ओवरों के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी इतनी उपलब्ध्यिां हासिल की हैं कि उसे यह फैसला करने का अधिकार है कि वह कब तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलना चाहता है। टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद से धोनी की फार्म में उतार चढ़ाव देखने को मिला है जिसके बारे में काफी चर्चा भी हुई है लेकिन विश्वनाथ ने झारखंड के इस विकेटकीपर बल्लेबाज का समर्थन किया।
विश्वनाथ ने बातचीत के दौरान कहा, ‘मुझे लगता है कि संन्यास लेना व्यक्तिगत फैसला है जिसे किसी पर थोपा नहीं जा सकता। उसने पर्याप्त उपलब्धियां हासिल की है और वह सबसे बेहतर जानता है कि जाने का सही समय कब है। साथ ही भारतीय क्रिकेट में समय बदल गया है।’ उन्होंने कहा, ‘मेरा मानना है कि बीसीसीआई और चयनकर्ता खिलाड़ी को पर्याप्त संकेत देते हैं जिससे कि वह जाने की तैयारी कर सके। पहले ऐसा नहीं होता था। कई बार ऐसा होता था जब खिलाड़ी को बाहर किया जाता है और वह कभी वापसी नहीं कर पाता था।’ भारत की ओर से 91 टेस्ट खेलने वाले विश्वनाथ ने टेस्ट कप्तान विराट कोहली के आक्रामक रवैये की सराहना की और मैच किसी भी स्थिति में होने के बावजूद जीत की कोशिश करने में उन्हें कुछ गलत नहीं लगता।

Updated : 2015-11-18T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top