Top
Home > Archived > हर दूसरे घर में मिल रहा है लार्वा

हर दूसरे घर में मिल रहा है लार्वा

11 और मरीजों को डेंगू की पुष्टि

ग्वालियर। इस वर्ष डेंगू का प्रकोप कम होने का नाम ही नहीं ले रहा है। वहीं दूसरी ओर स्वास्थ्य विभाग की 66 वार्डो में अलग-अलग 66 टीमें लगातार डेंगू का सर्वे कर रही हैं। स्थिति इतनी गम्भीर है कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए जा रहे सर्वे में हर दूसरे घर में लार्वा मिल रहा है। वहीं बलवन्त नगर में एक छात्रा की मौत के बाद बलवन्त नगर वहां के निवासियों के लिए डेंगू डेंजर जोन बना हुआ है। वहीं शहर की पॉश कॉलोनियों में से एक सिटी सेन्टर में भी डेंगू के मरीज बार-बार सामने आ रहे हंै। जिससे वहां के लोंगों में भी डेंगू को लेकर भय बना हुआ है।
उधर गजराराजा माइक्रो बायोलॉजी विभाग में शुक्रवार को 67 संदिग्ध मरीजों की जांच की गई। जिसमें शिवपुरी से दो, भिण्ड से एक, छतरपुर से एक, श्योपुर से एक मरीज सामने आए हैं। वहीं अकेले ग्वालियर से ही छह मरीजों की पुष्टि हुई है। जिसमें गोल पहाडिय़ा निवासी तनू दो वर्ष, बहोड़ापुर निवासी देव सक्सैना चार माह, दालबाजार निवासी सिमरन चार वर्ष, डबरा निवासी अचल मंगल 13 वर्ष, इन्दरगंज निवासी मधु 33 वर्ष, सिटी सेन्टर निवासी आकाश 16 वर्ष सामने शामिल हैं।

2837 संदिग्ध मरीजों की हो चुकी है जांच
अभी तक गजराराजा माइक्रो बायोलॉजी विभाग में डेंगू के 2837 संदिग्ध मरीजों की जांच की जा चुकी है। जिसमें से अकेले ग्वालियर के ही 223 मरीज व अन्य शहरों से 500 मरीज सामने आ चुके हैं।
छह हजार घरों का किया सर्वे
स्वास्थ्य विभाग द्वारा गुरूवार को लगभग छह हजार घरों का सर्वे किया गया। जिसमें लगभग एक हजार घरों में डेंगू का लार्वा मिला।
''हमारी टीमों द्वारा लगातार डेंगू पर अंकुश के लिए सर्वे किया जा रहा है। डेंगू को रोकने के लिए लोगों को भी जागरूक होना पड़ेगा।'
डॉ. मनोज कौरब
जिला मलेरिया अधिकारी

Updated : 2015-10-24T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top