Home > Archived > प्रवासी और शरणार्थी की समस्या एक वैश्विक चुनौती: बान की मून

प्रवासी और शरणार्थी की समस्या एक वैश्विक चुनौती: बान की मून

न्यूयार्क। संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने यूरोप में बढ़ती शरणार्थी समस्या के निदान के लिए स्लोवाकिया और आस्ट्रिया की सरकार के कार्यों की तारीफ की है। साथ ही इस संकट से निपटने के लिए वैश्विक नेताओं से एकजुठ होने की अपील की है।
स्लोवाकिया स्थित एक ‘आपात पारगमन केंद्र’ का दौरा करने के दौरान संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने कहा कि स्लोवाकिया और आस्ट्रिया के सरकार ने जिस तरह से शरणार्थियों की समस्या के समाधान के कुशल नेतृत्व का उदारहण पेश किया है, वह तारीफ के काबिल है। निराश्रय और असहाय शरणार्थियों की देखभाल करने के लिए मैं स्लोवाकिया द्वारा स्थापित ‘आपात पारगमन केंद्र’ की स्थापना की सराहना करता हूं।
अपने दौरे के दौरान महासचिव बान की मून ने प्रवासी और शरणार्थी मुद्दों की समस्या को एक वैश्विक चुनौती के रूप में पेश करते हुए कहा कि हाल के दिनों में यूरोप सहित कई देश युद्ध और उत्पीड़न सहित राजनीतिक, आर्थिक, सामाजिक चुनौतियों से जुझ रहे है। इस समस्या के निदान के लिए बान की मून ने वैश्विक नेताओं से एकजुठ होने की अपील भी की।
जानकारी हो कि हाल के दिनों में यूरोप के लिए शरणार्थियों को सुरक्षित ठिकाना दिलवाना एक बड़ी चुनौती बन गया है। यूरोपीय यूनियन जहां इस संकट से निपटने के लिए कई योजना का ऐलान किया है। वही यूरोप के कई देश अपने यहां अनिवार्य रूप से शरणार्थियों लोगों को शरण देने की यूरोपीय यूनियन की योजनाओं का विरोध कर रहे हैं।

Updated : 2015-10-20T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top