Top
Home > Archived > दुनिया का मार्गदर्शन करने को तैयार है भारत : शर्मा

दुनिया का मार्गदर्शन करने को तैयार है भारत : शर्मा

श्योपुर। सांस्कृतिक राष्ट्रवाद के चलते भारत देश आज दुनियां का फिर से मार्गदर्शन करने को तैयार हो गया है। यह विचार रविवार को रामद्वारा में दीनदयाल सेवा न्यास द्वारा आयोजित संगोष्ठी में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित एकात्म मानव-दर्शन अनुसंधान एवं विकास प्रतिष्ठान तथा पूर्व राज्यसभा सांसद महेश चंद्र शर्मा ने व्यक्त किए। आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता दीनदयाल सेवा न्यास श्योपुर के अध्यक्ष देवेन्द्र सिंह कुशवाह ने की साथ ही इस अवसर पर जिले के प्रभारी मंत्री लालसिंह आर्य भी विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित थे।
श्री शर्मा ने कहा कि आज पं. दीनदयाल के विचार समाज को श्रेष्ठ दिशा दे रहे हैं, लेकिन उनके विषय में अधिक जानकारी लोगों को नहीं है। ऐसा इसलिए कि उन्होंने खुद पीछे रहकर देश को तरक्की के पथ पर चलने की ओर अग्रसर किया। उन्होंने मानव क्या है, का भी परिचय कराया और बताया कि मानव न तो एक समाज है और न ही एकात्म, वह तो ब्रह्म है, अर्थात वह है जिसमें सब-कुछ समाया है जिसमें प्रकृति सहित सभी का थोड़ा-थोड़ा हिस्सा है। श्री शर्मा ने कहा कि सांस्कृतिक राष्ट्रवाद आज समाज के लिए न सिर्फ जरुरी है, बल्कि लोगों को इनसे प्रेरणा लेकर उन पर चलने की जरुरत भी है। कार्यक्रम के आरंभ में रामअवतार शर्मा के द्वारा अतिथियों का परिचय कराया गया, जबकि संचालन जितेन्द्र पाठक और आभार प्रदर्शन सेवा न्यास के सचिव सुरेशचंद्र अग्रवाल ने किया, इस अवसर पर नगर के प्रबुद्धजन बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

Updated : 2015-10-20T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top