Top
Home > Archived > हमारे पैर जमीन पर हैं: नितिन गडकरी

हमारे पैर जमीन पर हैं: नितिन गडकरी

हमारे पैर जमीन पर हैं: नितिन गडकरी
X

मुंबई | शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के बयान कि केंद्र में सत्तारूढ़ भाजपा जनता को अपनी बपौती न समझने और हवा में सवार होकर तलवारबाजी न करने की नसीहत का जवाब देते हुए कें द्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि भाजपा के पैर जमीन पर ही हैं। उल्लेखनीय है कि भाजपा-शिवसेना 25 वर्ष से पुराने सहयोगी हैं, पर दोनों में जुबानी जंग जारी है। गौरतलब है कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने पार्टी के मुखपत्र में बेहद तल्ख लहजे में भाजपा को नसीहत दी है। ठाकरे ने इसे महाराष्ट्र के चुनावों के लिए भी एक सबक बताते हुए लिखा, यह सबक सबके लिए है। जनता को अपनी बपौती नहीं समझना चाहिए, पैर जमीन पर रखें। जीत का उन्माद न चढऩे दें और हवा पर सवार होकर तलवारबाजी मत कीजिए। उद्धव ठाकरे ने आगे लिखा, यह सबक जो लोग लेंगे वही महाराष्ट्र पर कब्जा करेंगे, अन्यथा जनता उल्टा-सुल्टा करके चमड़ी छील डालेगी। ठाकरे के अनुसार लव जिहाद का मुद्दा उठाने का भी भाजपा को कोई फायदा नहीं हुआ। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ में लव जिहाद का मुद्दा उठाया था, लेकिन उसका कुछ विशेष परिणाम हुआ था, ऐसा नहीं दिखाई देता। हालांकि शिवसेना अध्यक्ष ने यह भी कहा कि उपचुनाव के नतीजों को मोदी से नहीं जोड़ा जाना चाहिए, उन्होंने लिखा है, महत्वपूर्ण बात यह है कि (कांग्रेस को) यह जीत राहुल गांधी या सोनिया गांधी के कारण मिली, ऐसा कोई नहीं बोल सकता। उसी तरह यह मोदी के खिलाफ दिया गया जनमत है, ऐसी आवाज भी कोई न मारे। महाराष्ट्र में सीटों के बंटवारे को लेकर भाजपा और शिवेसना आमने-सामने है। भाजपा ने १३५-१३५ सीटों का फॉर्मूला दिया था, जबकि शिवसेना १५० सीटों पर प्रत्याशी उतारने के लिए अड़ी है। सूत्रों के मुताबिक खबर है कि शिवसेना ने विधानसभा की सभी २८८ सीटों के लिए अपने प्रत्याशियों की सूची तैयार कर ली है। एक खबर यह भी है कि उपचुनाव के नतीजे के बाद नए फॉर्मूले के तहत शिवसेना को १४५ सीटें देने पर विचार हो रहा है जबकि भाजपा को १२५ सीटें मिल सकती है।

Updated : 2014-09-17T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top