Home > Archived > फ्लैग मीटिंग के बाद पाकिस्तान ने फिर की फायरिंग

फ्लैग मीटिंग के बाद पाकिस्तान ने फिर की फायरिंग

फ्लैग मीटिंग के बाद पाकिस्तान ने फिर की फायरिंग
X

जम्मू | दोनों देशों के बीच तनाव कम करने के लिए बीएसएफ और पाकिस्तान रेंजर्स के बीच फ्लैग मीटिंग के आयोजन के महज कुछ ही घंटे बाद पाकिस्तानी सैनिकों ने जम्मू के अखनूर सेक्टर में बार्डर आउट पोस्ट (बीओपी) पर और अंतरराष्ट्रीय सीमा से लगे असैन्य इलाकों पर गोलीबारी कर संघर्षविराम का एक बार फिर उल्लंघन किया।
एक पुलिस अधिकारी ने बताया, पिछली रात तकरीबन सवा 11 बजे अखनूर तहसील के पर्गवाल सब-सेक्टर में देवोरा अग्रिम पट्टी में बीओपी और असैन्य इलाकों में पाकिस्तान रेंजर्स की गोलीबारी हुई। पुलिस अधिकारी ने बताया कि गोलीबारी पौन 12 बजे रात तक जारी रही। बहरहाल, इस गोलीबारी में कोई हताहत नहीं हुआ। पाकिस्तानी गोलीबारी में तीन से चार पोस्ट को निशाना बनाया गया। उन्होंने बताया कि गांव में दो घरों पर गोलियां लगीं, लेकिन कोई घायल नहीं हुआ।
बीएसएफ कर्मियों ने पाकिस्तानी गोलीबारी के जवाब में कार्रवाई की। बाद में, रात के 1 बज कर 50 मिनट पर पाकिस्तान रेंजर्स ने पर्गवाल सेक्टर में बीएसएफ की तीन चौकियों पर छोटे हथियारों और मीडियम मशीन गन (एमएमजी) से गोलीबारी की। कुछ देर बाद, गोलीबारी थमी। भोर 4 बजे फिर गोलीबारी शुरू हुई।
पाकिस्तान रेंजर्स की तरफ से संघर्षविराम का यह उल्लंघन पर्गवाल सब-सेक्टर के निकोवाल बार्डर आउट पोस्ट में कमांडेंट स्तर की फ्लैग मीटिंग के समापन के महज 7 घंटे बाद हुआ है। बहरहाल, अंतरराष्ट्रीय सीमा से लगे अर्निया, आर एस पुरा, कनाचक, रामगढ़ और गजनसू सबसेक्टर में लगातार तीसरी रात शांति रही और पाकिस्तानी सैनिकों ने एक भी गोली नहीं दागी। ये सब-सेक्टर 45 दिनों से ज्यादा अर्से तक गोलीबारी का साक्षी रह चुके हैं।
आर एस पुरा के उपमंडलीय पुलिस अधिकारी ने बताया, अर्निया और आर एस पुरा पट्टी में कोई गोलीबारी नहीं हुई। अगस्त माह में यह संघर्षविराम का 24वां उल्लंघन है। संघर्षविराम उल्लंघन की इन घटनाओं में दो ग्रामीणों की मौत हो गई और 4 बीएसएफ जवान समेत 17 लोग घायल हुए। उम्मीद की जा रही है कि कल केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह सीमा इलाकों का दौरा करेंगे और जमीनी स्तर पर हालात का जायजा लेंगे।

Updated : 28 Aug 2014 12:00 AM GMT
Next Story
Top