Home > Archived > आरोपियों ने हाथ मिलाया और मार दी गोली

आरोपियों ने हाथ मिलाया और मार दी गोली

आरोपियों ने हाथ मिलाया और मार दी गोली
X

मुंह नहीं खोल रहा घायल युवक, मामला उलझा


शिवपुरी।
ग्वालियर बायपास स्थित पुराने टोल नाके पर कल रात दो बदमाशों द्वारा एक युवक रॉकी सरदार को गोली मारने का मामला उलझ गया है। युवक गंभीर रूप से घायल है और उसकी नाजुक हालत को देखकर उसे ग्वालियर रैफर कर दिया गया है, लेकिन युवक आरोपियों के बारे में कुछ नहीं बोल रहा है। उसने कहा कि वह गोली मारने वालों को नहीं जानता। जबकि युवक के साथ मौजूद भानू दर्जी का कहना है कि आरोपियों ने रॉकी से हाथ मिलाया। इससे लगता है कि बदमाश रॉकी से परिचित थे, लेकिन रॉकी के मुंह न खोलने से पूरा मामला उलझ गया है।
हालांकि रॉकी का कथन है कि मोबाइल पर उसे यह कहकर बुलाया गया था कि उसके उधार लिए एक हजार रु. लौटाने है। इससे लगता है कि रॉकी आरोपियों से परिचित है। वहीं सूत्रों का कथन है कि यह मामला आशनाई से जुड़ा हुआ प्रतीत होता है। इस कारण भी रॉकी चुप्पी साधे हुए है। इस मामले में पुलिस ने दो अज्ञात युवकों के खिलाफ धारा 307, 34 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर लिया है।
कोतवाली टीआई आरकेएस राठौर ने बताया कि रात करीब 9:20 बजे उन्हें सूचना मिली कि ग्वालियर बायपास क्षेत्र में दो युवकों ने स्कूटी पर सवार युवक को गोली मार दी। सूचना पर जब पुलिस बल अस्पताल पहुंचा तो वहां घायल रॉकी कुछ भी बताने से कतरा रहा था। सिर्फ उसने पुलिस को इतना बताया कि उसके मोबाइल पर कोई अज्ञात व्यक्ति ने फोन लगाया और कहा कि वह उसे रुपए देना चाहता है जिस पर वह स्कूटी उठाकर अपने मित्र भानू दर्जी को लेकर ग्वालियर बाईपास पहुंचा। जहां दो युवक खड़े हुए थे। उन्होंने उसे इशारा करके बुलाया तो रॉकी व भानू गाड़ी लेकर उन युवकों के पास पहुंचे। जहां एक युवक ने कट्टा निकालकर रॉकी पर फायर कर दिया जिससे एक गोली रॉकी की पीठ में और दूसरी गोली पेट के पास लगी जिससे वह जमीन पर गिर गया और जब वह चिल्लाया तो दोनों आरोपी भाग निकले। इसके बाद उसका मित्र भानू दर्जी उसे टेक्सी में बैठाकर अस्पताल लाया।
आरोपियों के बुलाने पर गया था रॉकी: भानु
घटनास्थल पर रॉकी के साथ मौजूद भानू ने पुलिस को बताया कि रॉकी आरोपियों के बुलाने पर वहां पहुंचा और उसने आरोपियों से हाथ भी मिलाया और कुछ देर तक बातचीत भी की। जब वह आरोपियों से बातचीत कर रहा था तो भानु पास ही स्थित एक गन्ने के जूस की दुकान पर खड़ा हो गया। इसी बीच आरोपियों ने उसे गोली मार दी। गोली की आवाज सुनकर भानु वहां पहुंचा तो रॉकी घायलावस्था में सड़क पर पड़ा था और आरोपी भाग चुके थे। भानु ने पुलिस को बताया कि जिस युवक ने रॉकी को गोली मारी उसका रंग काला था और शरीर मोटा था। एसपी महेन्द्र सिंह सिकरवार का कहना है कि जब घायल रॉकी ने आरोपियों से हाथ मिलाया तो वह उनसे अच्छी तरह परिचित भी है, लेकिन संदेह वहां पैदा हो रहा है कि घायल आरोपियों का नाम बताने में क्यों कतरा रहा है। फिलहाल पुलिस मामले की तह तक जाने की कोशिश में लगी हुई है। 

Updated : 2014-06-18T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top