Top
Home > Archived > सीबीआई जल्द ही सारदा चिटफंड घोटाले में दर्ज करेगी मामले

सीबीआई जल्द ही सारदा चिटफंड घोटाले में दर्ज करेगी मामले

नई दिल्ली | विभिन्न राज्यों से दस्तावेज हासिल करने के बाद सीबीआई करोड़ों रुपये के सारदा चिट फंड घोटाले में अगले हफ्ते तक कुछ प्रथम मामले दर्ज करेगी।
आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सीबीआई के सात सदस्यीय विशेष जांच दल ने पहले ही पश्चिम बंगाल, ओडिशा, पूर्वोत्तर एवं बिहार से बड़ी संख्या में दस्तावेज एकत्र कर लिये हैं और उनकी समीक्षा हो रही है।
सीबीआई निदेशक रंजीत सिन्हा ने कहा, हमने सभी सामग्री एकत्र कर ली है। हम जल्द से जल्द जांच शुरू करेंगे। सिन्हा ने पश्चिम बंगाल एवं ओडिशा के मुख्य सचिवों को लिखकर घोटाले के जांच के लिए गठित दलों को महत्वपूर्ण सहयोग उपलब्ध कराने को कहा है।
आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि इस घोटाले में पहला मामला अगले हफ्ते तक दर्ज होने की संभावना है। एसआईटी ने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव और राज्य पुलिस के महानिदेशक एवं गुह सचिव से मुलाकात की तथा बड़ी संख्या में दस्तावेज एकत्र करने में उनका सहयोग मांगा।
एजेंसी ने सचिव एवं ओडिशा पुलिस के महासचिव से भी सहायता मांगी और मामले से संबंधित दस्तावेज देने को कहा। उच्चतम न्यायालय ने राज्य सरकारों से सारदा चिट फंट मामले की जांच कर रहे सीबीआई दलों को साजोसामान संबंधी सभी मदद मुहैया कराने को कहा है।
सिन्हा ने कहा कि सीबीआई का ध्यान कथित घोटाले के पीछे की साजिश को बेनकाब करने पर है। सीबीआई ने 10 हजार करोड़ रुपये से अधिक के सारदा चिट फंड घोटाला मामले की जांच तथा ओडिशा, पश्चिम बंगाल, बिहार एवं पूर्वोत्तर राज्यों से दस्तावेज एकत्र करने के लिए सात सदस्यीय एसआईटी का गठन किया है।
संयुक्त निदेशक राजीव सिंह की अगुवाई वाली एसआईटी सेबी और आरबीआई जैसे नियामकों की भूमिका की भी जांच करेगी। सीबीआई के विशेष निदेशक अनिल कुमार सिन्हा से जांच की प्रगति की निगरानी करने को कहा गया है। साथ ही वह सीबीआई निदेशक के व्यापक निर्देशन में प्रशासनिक नियंत्रण भी करेंगे।
एजेंसी सूत्रों ने बताया कि सीबीआई उच्चतम न्यायालय के निर्देश पर सेबी तथा कंपनी कानून के तहत आने वाले अधिकारियों एवं भारतीय रिजर्व बैंक की भूमिका पर भी गौर करेगी। सारदा समूह के प्रमुख सुदीप्त सेन को पश्चिम बंगाल सरकार ने पिछले साल कश्मीर से गिरफ्तार किया था। तृणमूल कांग्रेस के सांसद कुणाल कुमार घोष को भी इस घोटाले के सिलसिले में पिछले साल 23 नवंबर को गिरफ्तार किया गया था। घोष सारदा समूह की कंपनियों के मीडिया मुख्य कार्याधिकारी अधिकारी थे।


Updated : 2014-05-30T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top