Top
Home > Archived > सोलहवी लोकसभा सदस्यों के स्वागत की विशेष व्यवस्था

सोलहवी लोकसभा सदस्यों के स्वागत की विशेष व्यवस्था

सोलहवी लोकसभा सदस्यों के स्वागत की विशेष व्यवस्था

नई दिल्ली। सोलहवीं लोकसभा के लिए निर्वाचित होने वाले सदस्यों के स्वागत में लोकसभा सचिवालय ने व्यवस्था के विशेष इंतजाम कर रखे हैं। इसमें हवाई अड्डा और रेलवे स्टेशनों से नवनिर्वाचित सदस्यों की अगवानी करने के साथ ही उनके ठहरने, पंजीकरण, पहचान पत्र समेत अन्य सुविधाओं की व्यवस्था कराना शामिल है। लोकसभा महासचिव पी श्रीधरन ने कहा, लोकसभा सचिवालय ने सोलहवीं लोकसभा के सदस्यों के दिल्ली आगमन पर उनके लिए विशेष व्यवस्था की है। सचिवालय ने राजधानी में विभिन्न आगमन स्थलों पर छह मार्गदर्शक केंद्र स्थापित किये हैं। मार्गदर्शक केंद्र 16वीं लोक सभा के प्रथम सत्र के पहले तीन दिनों तक काम करेंगे।
लोकसभा महासचिव ने कहा, नई दिल्ली स्थित संसद भवन के कमरा संख्या 62 में नवनिर्वाचित सदस्यों को जरुरी सहयोग मुहैया कराने के लिए व्यवस्था की गयी है और वहां पर 16 से 26 मई तक 24 घंटे पंजीकरण एवं सहयोग प्राप्त किया जा सकेगा। लोकसभा सचिवालय ने इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे तथा दिल्ली, नयी दिल्ली और हजरत निजामुद्दीन स्थित तीन रेलवे स्टेशनों पर नवनिर्वाचित सदस्यों की अगवानी की व्यवस्था की है। विमान से आगमन पर ठहरने की व्यवस्था के बारे में जानकारी प्राप्त करने और अन्य औपचारिकताएं पूरी करने के लिए सदस्य इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे (टर्मिनल 1डी और 3) पर मार्गदर्शक केंद्र या गाइड पोस्ट से सम्पर्क कर सकते हैं।
सदस्य रेलगाडी से आते हैं तब वे सहायता के लिए दिल्ली, नई दिल्ली और हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशनों पर मार्गदर्शन केंद्र से संपर्क कर सकते हैं। श्रीधरन ने कहा कि सदस्यों के ठहरने के लिए राज्यों के गेस्ट हाउस के अलावा चाणक्यपुरी स्थित होटल अशोक में भी व्यवस्था की गयी है। नवनिर्वाचित सदस्यों से अनुरोध किया गया है कि संसद भवन में आगमन के बारे वे कमरा संख्या 62 में संपर्क करें जहां उनके लिए अस्थायी आवास के आवंटन, अस्थायी पहचान पत्र, स्थायी पहचान पत्र, रेलवे पास, सदस्य परिचय पत्र के लिए फोटो खींचना और संसदीय प्रकाशनों की आपूर्ति की व्यवस्था की गयी है। इसके साथ ही सदस्यों के नाम की शैली, नमूना हस्ताक्षर, शपथ लेने के लिए भाषा का चयन संबंधी प्रपत्र भरना और सदस्य परिचय में जीवनवृत्त हेतु प्रपत्र भरना शामिल है। सदस्यों से आग्रह किया गया है कि वे अपने साथ निर्वाचन अधिकारी द्वारा 16वीं लोकसभा के लिए निर्वाचन संबंधी जारी मूल प्रमाणपत्र और दो फोटो साथ लाये।
पी.श्रीधरन ने कहा कि लोकसभा सचिवालय ने विभिन्न प्रकाशनों के संशोधित संस्करण समेत लोकसभा में कामकाज संबंधी नियमों एवं प्रक्रियाओं की पुस्तिका, भारत के संविधान आदि की भी व्यवस्था की है जो सदस्यों को अपने कामकाज के निर्वाह में मदद करेगा।

Updated : 2014-05-15T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top