Top
Home > Archived > सोनिया गांधी पर कार्रवाई करे चुनाव आयोग: मोदी

सोनिया गांधी पर कार्रवाई करे चुनाव आयोग: मोदी

सोनिया गांधी पर कार्रवाई करे चुनाव आयोग: मोदी

गाजियाबाद | भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्‍मीदवार नरेंद्र मोदी नेकांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी पर हमला बोला। मोदी ने आरोप लगाया कि मुसलमान वोटों को लुभाने और चुनावों एवं राजनीति का ‘साम्प्रदायिकरण’ करने को लेकर सोनिया गांधी ने जामा मस्जिद के शाही इमाम सैय्यद अहमद बुखारी के साथ मुलाकात की।
एक रैली को संबोधित करते हुए गुजरात के मुख्‍यमंत्री ने कहा कि चुनावों को सांप्रदायिक रंग देने के लिए कांग्रेस हरसंभव कोशिश कर रही है। उनके लिए सवालों का जवाब देना मुश्किल हो रहा है और इसलिए वे केवल एक चीज कह रहे हैं `सेक्‍युलिरिज्‍म, सेक्‍युलिरिज्‍म, सेक्‍युलिरिज्‍म`।
कांग्रेस पर आक्रमक होते हुए मोदी ने कहा कि उनका (कांग्रेस) सांप्रदायिकता का खेल अब खत्‍म हो चुका है। लोग इस बात को समझ चुके हैं। कांग्रेस हार चुकी है और इसलिए अब धर्मनिरपेक्षता के बाद वे खुलकर सांप्रदायिकता की वकालत कर रहे हैं।
मोदी ने चुनाव आयोग से अपील की कि धार्मिक आधार पर वोटों की अपील करने और चुनावों का सांप्रदायीकरण करने को लेकर सोनिया गांधी के खिलाफ कार्रवाई (सुओ मोटो) की जाए। धार्मिक आधार पर वोटों की अपील करना और मांगना देश के कानून के खिलाफ है। इसलिए मैं चुनाव आयोग से अपील करता हूं कि कांग्रेस अध्‍यक्ष के खिलाफ कार्रवाई की जाए।
बीजेपी नेता ने रैली में मौजूद में लोगों से पूछा, आप बताएं कि क्‍या धार्मिक आधार पर वोट मांगना उचित है? साथ ही यह भी कहा कि मैं जब कांग्रेस से बढ़ती महंगाई के सवाल पर जवाब मांगता हूं तो कांग्रेस धर्मनिरपेक्षता की बात करती है। मैं जब रोजगार के बारे में पूछता हूं तो वे वही जवाब देते हैं। मैं जब किसानों को पानी देने की बात करता हूं तो वे पहले धर्मनिरपेक्षता के बारे में बात करने को कहते हैं। ऐसे में मैं आपसे पूछता हूं कि जिन मुद्दों को मैं उठा रहा हूं क्‍या वे महत्‍वपूर्ण नहीं हैं।
मोदी ने आगे हमला जारी रखते हुए कहा कि कांग्रेस केवल खाली नारा न दे और लोगों को आपस में न बांटे। लेकिन यह कांग्रेस की परंपरा रही है। सोनिया गांधी ने केवल लोगों को गुमराह करने और देश को बांटने का का काम किया है। मगर देश की जनता इस तरह की राजनीति को कभी माफ नहीं करेगी।
अपने चाय विक्रेता होने के इतिहास को दोहराते हुए बीजेपी नेता ने कहा कि कांग्रेस ने कभी सपने में नहीं सोचा था कि एक गरीब आदमी का बेटा कभी उनसे यह सवाल करेगा कि आपने देश को कैसे मूर्ख बनाया।
इससे पहले, कांग्रेस पर राजनीति का ‘साम्प्रदायिकरण’ करने का आरोप लगाते हुए भाजपा ने चुनाव आयोग से उस खबर पर संज्ञान लेने को कहा जिसमें कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मुसलमानों से यह अपील की कि लोकसभा चुनाव में वे बंटे नहीं।
गौर हो कि सोनिया गांधी ने बुधवार को जामा मस्जिद के इमाम सैयद अहमद बुखारी के नेतृत्व वाले शिष्टमंडल से मुलाकात की थी। सोनिया ने दिल्ली में उनके आवास पर जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी से मुलाकात की थी जो 45 मिनट तक चली। भेंट के दौरान शाही इमाम सैयद बुखारी ने उन्हें मुसलमानों से जुड़ें मुद्दों से अवगत कराया। इस बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि हम ध्रुवीकरण के खेल या काम में नहीं लगे।
वहीं, भाजपा प्रवक्ता प्रकाश जावड़ेकर नेकहा कि बुखारी के हवाले से कहा गया है कि सोनिया ने कहा कि मुस्लिम मतों का विभाजन नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस मुसलमानों से साम्प्रदायिक और धार्मिक आधार पर मतदान करने की अपील कर रही है। यह किस तरह की धर्मनिरपेक्षता है? यह वोट बैंक की राजनीति है। चुनाव आयोग को स्वत: संज्ञान लेना चाहिए। जावडेकर ने सोनिया पर आदर्श चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करने का आरोप लगाते हुए कहा कि लोकतंत्र में मतदाता स्वतंत्र रूप से अपनी इच्छा से मतदान करते हैं। उन्होंने कहा कि सोनिया साम्प्रदायिक राजनीति कर रही है और दूसरों पर साम्प्रदायिक होने का आरोप लगा रही हैं।

Updated : 2014-04-03T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top