Top
Home > Archived > साबिर अली ने अपनी सदस्यता स्थगित रखने को कहा

साबिर अली ने अपनी सदस्यता स्थगित रखने को कहा

साबिर अली ने अपनी सदस्यता स्थगित रखने को कहा

नई दिल्ली | पार्टी में शामिल होने पर भाजपा में अप्रसन्नता के बीच जदयू से निष्कासित नेता साबिर अली ने भाजपा नेतृत्व से तब तक अपनी सदस्यता स्थगित रखने को कहा है जब तक उनके खिलाफ आरोप खारिज नहीं हो जाए।
राज्यसभा सदस्य अली ने कहा कि अगर उनके खिलाफ आतंकवादी यासीन भटकल से जुड़े आरोप साबित हो जाते हैं तब वह राजनीति हमेशा से लिए छोड़ देंगे जो आरोप भाजपा के वरिष्ठ नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने लगाए हैं।
अली ने कहा कि मैंने धर्मेन्द्र प्रधान को पत्र लिखकर अपनी सदस्यता स्थगित करने को कहा है। मैंने उनसे एक समिति गठित करने का आग्रह किया है और इन अरोपों के आधार पर इसकी छानबीन करने को कहा है। अगर ये आरोप दूर दूर तक भी सही पाये जाते हैं तब मैं हमेशा के लिए राजनीति छोड़ दूंगा।
गौरतलब है कि जदयू से निष्कासित नेता साबिर अली को भाजपा में शामिल किए जाने पर सख्त आपत्ति जताते हुए पार्टी उपाध्यक्ष मुख्तार अब्बास नकवी ने अली को आतंकवादी भटकल का मित्र बताया और सवाल किया कि क्या कल दाउद को भी पार्टी में शामिल कर लिया जाएगा।
नकवी को उनके लगाये आरोपों को साबित करने की चुनौती देते हुए अली ने कहा कि उन्होंने सपने में भी भटकल को नहीं देखा है और केवल समाचारपत्रों के माध्यम से ही इसकी जानकारी है। भाजपा में मुस्लिम चेहरा और पार्टी उपाध्यक्ष नकवी ने अली को पार्टी में शामिल किये जाने को गलती करार दिया था और इसे वापस लेने की मांग की थी। भाजपा प्रवक्ता सुधांशू त्रिवेदी ने कहा है कि अली को बिहार इकाई की सिफारिशों के आधार पर शामिल किया गया और अली से जुड़े तथ्यों और अतीत की पुष्टि करने के बाद आगे कार्रवाई की जायेगी।

Updated : 2014-03-29T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top